अधिक देखे गए।

ईरान का बड़ा धमाका, दमिश्क़ और इराक के बाद अगर यमन ने सहायता मांगी तो मैदान में उतरने को तैयार । अमेरिकी नेता ने स्वीकारा, सीरिया में ईरान से हार चुका है अमेरिका । ईरान वह देश है जिस पर किसी धौंस और धमकी का प्रभाव नहीं : रूस ट्रम्प लगाते रहे मुलाक़ात की गुहार, हसन रूहानी ने नहीं दिखाई दिलचस्पी अमेरिका के आगे नहीं झुकेंगे ईरान का सहयोग जारी रहेगा : चीन जौलान हाइट्स पर मंडलाते रूसी ड्रोन, इस्राईल के लिए संकट के बदल गहराए । इस्राईल और नेतन्याहू के लिए भय और दुखद सपना बन गया है ईरान का बढ़ता प्रभाव । आयतुल्लाह ख़ामेनई का विशेष संदेश लेकर रूस पहुंचे विलायती ने की पुतिन से मुलाक़ात । अमेरिका ने दी भारत की स्वाधीनता को चुनौती। अमेरिका पर लगाम लगाना बहुत ज़रूरी, अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में घसीटेंगे : ईरान शिया बहुल फ़ौआ और कफ़रया के लोगों को सुरक्षित निकालने की तैयारियां शुरू ।
Thursday - 2018 July 19

क़ुरआन-अहलेबैत अ.

इमाम सादिक़ अ.स. का इल्मी इंक़ेलाब लाने का राज़

हुकूमतें अहलेबैत अ.स. के फज़ाएल को मिटाने और उनकी शख़्सियत को धुंधला करने के लिए ग़लत अक़ीदे और बातिल उलूम का समर्थन करते थे, हद तो यह है कि अलहेबैत अ.स. की दुश्मनी में ज़नादेक़ा (नास्तिक) के कुफ़्र और इलहाद का भी समर्थन करते थे, इनमें से कुछ फ़िर्क़े और उलूम यह थे.... मुर्जेआ जिनका अक़ीदा था कि केवल ईमान काफ़ी है अमल की ज़रूरत ही नहीं या इसी तरह ज़नादेक़ा जिनका ज़िक्र अभी ऊपर हुआ या इसी तरह ग़ालियों (इमामों को ख़ुदा मानने वाले) का फ़िर्क़ा।

ईद और मासूमीन अ.स. की सीरत

मासूमीन अ.स. की निगाह में ईद की ख़ास अहमियत थी, पैग़म्बर स.अ. ने एक हदीस में ईदुल फितर और ईदुल अज़हा के बारे में फ़रमाया कि जिस समय मैं मदीने में आया तो मुझे पता चला कि जेहालत के दौर में लोग ईद के दो दिनों को बेहूदा और ग़ैर ज़रूरी कामों के लिए जानते थे, इसीलिए अल्लाह ने उन दिनों के बदले दो ईद के दिन क़रार दिए एक ईदुल फ़ितर और दूसरे ईदे क़ुर्बान, फिर आपने एक बहुत लंबी हदीस में फ़रमाया कि जब शबे ईदुल फ़ितर आती है तो अल्लाह नेक अमल वालों को बिना हिसाब किताब सवाब देगा, और जैसे ही ईद की सुबह होती है अल्लाह फ़रिश्तों को सारे शहरों में भेजता है वह ज़मीन पर आ कर गली कूचे में खड़े हो कर बुलंद आवाज़ से पुकार कर कहते हैं ऐ मोहम्मद (स.अ.) की उम्मत ईद की नमाज़ के लिए बाहर निकलो अल्लाह बे हिसाब सवाब देगा और सारे गुनाहों को माफ़ कर देगा।

इमाम अली अ.स. और यतीमों की सरपरस्ती

एक दिन इमाम अली अ.स. को यतीमों की तंगी और बदहाली की ख़बर मिली, आपने घर जा कर चावल, खजूर, तेल और कुछ खाने की चीज़ों का बंदोबस्त किया उसे अपने कंधे पर रख कर उनके घर चल दिए, मेरे बार बार कहने पर भी वह खाने का सामान मुझे नहीं दिया बल्कि ख़ुद अपने कंधे पर रखे रहे, जब हम यतीमों के घर पहुंचे तो इमाम अ.स. ने अपने हाथ से लज़ीज़ खाना बनाया और फिर अपने हाथ से उन्हें पेट भर खाना खिलाया। फिर आप उन बच्चों के साथ बहुत देर तक खेलते रहे उनको हंसाते रहे बच्चे भी आपके साथ खेलते और खिलखिला कर हंस रहे थे।
Country:     City:
Fajr 4:20
Sunrise 6:20
Zohr 13:10
Sunset 19:50
Maghrib 20:30

ताज़ा समाचार

अमेरिका और इस्राईल को खुश करने के लिए शिया समुदाय के खिलाफ मोर्चा खोल रहा है हिकमतयार । ईरान का बड़ा धमाका, दमिश्क़ और इराक के बाद अगर यमन ने सहायता मांगी तो मैदान में उतरने को तैयार । ईरान वह देश है जिस पर किसी धौंस और धमकी का प्रभाव नहीं : रूस रियाज़ में तेल प्रतिष्ठानों पर यमन के हमले, आले सऊद में शोक इंसान और बंदगी ट्रम्प लगाते रहे मुलाक़ात की गुहार, हसन रूहानी ने नहीं दिखाई दिलचस्पी तेहरान में सुलझेंगी क्षेत्रीय समस्याएं हेल्सिंकी में नहीं : अब्दुल बारी अतवान इस्राईल और नेतन्याहू के लिए भय और दुखद सपना बन गया है ईरान का बढ़ता प्रभाव । आले सऊद का आदेश, सऊदी स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाएगा इस्लामिक दर्शन । आतंकी संगठन SDF ने दमिश्क़ से वार्ता की इच्छा जताई ईरान के कड़े तेवर, बयानबाज़ी छोड़ अपने वादों पर अमल करे यूरोप : जवाद ज़रीफ़ शिया बहुल फ़ौआ और कफ़रया के लोगों को सुरक्षित निकालने की तैयारियां शुरू । अमेरिका के आगे नहीं झुकेंगे ईरान का सहयोग जारी रहेगा : चीन बम धमाकों से दहला सीरिया, मिडिया में जारी हैं विरोधाभासी ख़बरें । अमेरिकी नेता ने स्वीकारा, सीरिया में ईरान से हार चुका है अमेरिका । इस्राईली ख़ुफ़िया एजेंसी मोसाद के ज़िम्मे है सऊदी युवराज की सुरक्षा व्यवस्था । हिज़्बुल्लाह और अन्य लेबनानी दलों में भेदभाव नहीं करता फ़्रांस : ब्रूनो फॉचेर अमेरिका ने दी भारत की स्वाधीनता को चुनौती। अमेरिकी आतंक, सीरिया से निकलने से किया इंकार, ईरान की चुनौती से निपटने के लिए सीरिया मे रहना ज़रूरी : जॉन बोल्टन यूरोप व्हाइट हाउस पर भरोसा नहीं कर सकता : जर्मनी कठमुल्लों और सियासतदानों की डुगडुगी दुबई में आर्थिक संकट की आहट, पूर्वाधिकारी ने सरकार को चेताया । अमेरिका पर लगाम लगाना बहुत ज़रूरी, अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में घसीटेंगे : ईरान अवैध राष्ट्र इस्राईल में हड़कंप, ज़ायोनी मंत्रियों ने लगाए एक दूसरे पर गोपनीय जानकारियां लीक करने के आरोप । अल्लाह का ज़िक्र और दिलों का आराम आयतुल्लाह ख़ामेनई का विशेष संदेश लेकर रूस पहुंचे विलायती ने की पुतिन से मुलाक़ात ।

हज़रत आयतुल्लाह ख़ामेनई

Thursday 5 May 2016 आयतुल्लाह ख़ामेनई की ओर से बंदी लोगों की आज़ादी के लिए 18 अरब तूमान की सहायता ।
ईरान में हार साल माहे मुबारक रमज़ान के अवसर पर न्यायपालिका के अधिकारियों की देखरेख में चिराग़े आईनहाये गुलरीज़ान के नाम से ऐसे लोगों की रिहाई के लिए दंड की रक़म जुटाने का अभियान शुरू किया जाता है जो गैर इरादतन अपराध में जेल की सजा काट रहे होते हैं ।

मराज-ए-तक़लीद से सम्बंधित समाचार

आयतुल्लाह सीस्तानी का बयान तय करेगा इराक चुनाव की रूप रेखा ।

हालाँकि आयतुल्लाह सीस्तानी ने किसी भी दल को समर्थन नहीं किया है लेकिन आप ने लोगों से चुनावों में भाग लेते हुए सम्प्रदाय और गुटों से हटकर सही नेतृत्व करने वाले के चयन पर ज़ोर दिया है ।

समाचार

इंसान और बंदगी

इबादत अपने एक पहलू से रिसालत से भी अफ़ज़ल है और इसीलिए उसे नबुव्वत और रिसालत की बुनियाद कहा गया है और हज़रत ईसा स.अ. नबुव्वत के एलान से पहले अपनी बंदगी का एलान किया था और मुसलमान आज तक हर नमाज़ में बंदगी की गवाही रिसालत से पहले देता है।

7/19/2018 9:50:35 AM

ट्रम्प लगाते रहे मुलाक़ात की गुहार, हसन रूहानी ने नहीं दिखाई दिलचस्पी

वाइज़ी ने कहा कि सितंबर 2017 में संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक के लिए रूहानी के न्यूयॉर्क दौरे के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने यह अनुग्रह किए।

7/19/2018 9:30:22 AM

तेहरान में सुलझेंगी क्षेत्रीय समस्याएं हेल्सिंकी में नहीं : अब्दुल बारी अतवान

23 जुलाई को तेहरान में होने वाली बैठक के मुक़ाबले में हेलसिंकी बैठक की कोई अहमियत नहीं है क्योंकि तेहरान बैठक में अमेरिका की उपस्थिति के बिना मध्यपूर्व का नया नक़्शा तैयार किया जाएगा

7/18/2018 5:40:42 PM

इस्राईल और नेतन्याहू के लिए भय और दुखद सपना बन गया है ईरान का बढ़ता प्रभाव ।

ज़ायोनी समाचार पत्र ने लिखा कि ईरान का बढ़ता प्रभाव नेतन्याहू के लिए अभिशाप बन गया है वह गहरी चिंता में है यहां तक कि अमेरिका के वरिष्ठ अधिकारियों की बार बार की तल अवीव यात्रा भी ज़ायोनी नेता के भय को कम नहीं कर पा रही हैं ।

7/18/2018 5:15:05 PM

  • रिकार्ड संख्या : 6650

घर-परिवार

बच्चों को डांटे नहीं!!

जब वालेदैन पूरे ग़ुस्से में बच्चों पर चिल्लाते हैं तो वह अपना आपा खो चुके होते हैं जिसकी वजह से वह ऐसी बातें भी बोल जाते हैं जिसे बोलना नहीं चाहते जिसकी वजह से बच्चे का बातिन और उसकी ज़मीर अपना अपमान महसूस करता है, हालांकि बहुत सख़्त है कि आप बीस बार एक ही बात के लिए अपने बच्चे से कहें जैसे यह कि तुम्हारी किताबें यहां क्यों पड़ी हैं, या यह कि कबसे यह किताबें यहां पड़ी हैं वग़ैरह... लेकिन आपसे सवाल है कि.....