Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 181235
Date of publication : 30/4/2016 17:46
Hit : 198

इस्राईल के परमाणु प्लांट में 1500 तकनीकी ख़राबियां।

ज़ायोनी शासन के परमाणु रिएक्टर में डेढ़ हज़ार से ज़्यादा तकनीकी कमियां, पूरे इलाक़े के लिए गंभीर ख़तरे के रूप में मौजूद हैं।


विलायत पोर्टलः ज़ायोनी शासन के परमाणु रिएक्टर में डेढ़ हज़ार से ज़्यादा तकनीकी कमियां, पूरे इलाक़े के लिए गंभीर ख़तरे के रूप में मौजूद हैं। इस्राईल के समाचारपत्र हाआरेत्ज़ ने अपने मंगलवार के संस्करण में लिखा है कि वैज्ञानिकों के अनुसार अतिग्रहित फ़िलिस्तीन में स्थित डिमोना परमाणु संयंत्र में डेढ़ हज़ार से ज़्यादा तकनीकी ख़राबियां हैं जो उसके ज़्यादा समय तक काम करने की वजह से अस्तित्व में आई हैं। ख़त के अनुसार डिमोना रिएक्टर साल 1963 से काम कर रहा है जबकि दुनियां में इस जैसे रिएक्टर 40 साल काम करने के बाद बंद कर दिए गए हैं। हाआरेत्ज़ ने लिखा है कि वैज्ञानिकों की जांच के नतीजे तेल अवीव में परमाणु मामले के संबंध में आयोजित हुए एक सम्मेलन में पेश किए गए। इस समाचार ने इसी के साथ डिमोना रिएक्टर के सुरक्षित होने का भी दावा करते हुए लिखा है कि वैज्ञानिकों का मानना है कि इन कमियों व ख़राबियों से डिमोना में किसी गड़बड़ का पता नहीं चलता लेकिन सम्मेलन में भाग लेने वाले कुछ वैज्ञानिकों ने इस स्थिति पर गहरी चिंता जताई है। यह ऐसी स्थिति में है कि जब फ़िलिस्तीनी वैज्ञानिकों ने अलख़लील नगर के दक्षिणी इलाक़ों में लोगों में कैंसर की दर बढ़ने की तरफ़ से सचेत किया है और विश्व समुदाय से मांग की है कि ज़ायोनी शासन की परमाणु गतिविधियों पर नज़र रखी जाए। एक फ़िलिस्तीनी वैज्ञानिक ने बताया है कि पश्चिमी तट ज़ायोनी शासन का परमाणु कचरा दफ़्न किए जाने का स्थान बन चुका है जिससे इस इलाक़े में विभिन्न रोग बढ़ते चले जा रहे हैं।
.......................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

ईरान के पयाम सैटेलाइट ने इस्राईल और अमेरिका को नई चिंता में डाला सीरिया की स्थिरता और सुरक्षा, इराक की सुरक्षा का हिस्सा : बग़दाद आले सऊद की नई करतूत , सऊदी अरब में खुले नाइट कलब और कैसीनो । अमेरिका ने सीरिया से भाग कर ईरान, रूस और बश्शार असद को शक्तिशाली किया । ज़ुबान के इस्तेमाल के फ़ायदे और नुक़सान । सीरिया के विभाजन की साज़िश नाकाम, अमेरिका ने कुर्दों को दिया धोखा । सीरिया में अमेरिका का स्थान लेंगी मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात की सेना । बैतुल मुक़द्दस से उठने वाली अज़ान की आवाज़ पर लगेगी पाबंदी । दमिश्क़ की ओर पलट रहे हैं अरब देश, इस्राईल हारा हुआ जुआरी : ज़ायोनी टीवी शहीद बाक़िर अल निम्र, वह शेर मर्द जिसका नाम सुनकर आज भी लरज़ जाते हैं आले सऊद बश्शार असद की हत्या ज़ायोनी चीफ ऑफ स्टाफ की पहली प्राथमिकता ? यमन के सक़तरी द्वीप पर संयुक्त अरब अमीरात की नज़र क़तर के पूर्व नेता का सवाल, सऊदी अरब में कोई बुद्धिमान है जो सोच विचार कर सके ? अंसारुल्लाह का आरोप , यमन के लिए दूषित भोजन खरीद रहा है डब्ल्यू.एच.पी भारत ने दी ईरान को बड़ी राहत, तेल के लिए रुपये से पेमेंट के बाद अब टैक्स में भी छूट