Thursday - 2018 August 16
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 182753
Date of publication : 10/6/2016 19:9
Hit : 262

‘रमज़ान करीम’ कहना ग़लत और पाप हैः सऊदी वहाबी मुफ़्ती

सऊदी अरब के एक वहाबी मुफ़्ती एवं वरिष्ठ धर्मगुरूओं की परिषद के सदस्य ने कहा है कि "रमज़ान करीम" कहना जायज़ नहीं है और रमज़ान को करीम कहने का कोई धार्मिक आधार नहीं है।
विलायत पोर्टलः सऊदी अरब के एक वहाबी मुफ़्ती एवं वरिष्ठ धर्मगुरूओं की परिषद के सदस्य ने कहा है कि "रमज़ान करीम" कहना जायज़ नहीं है और रमज़ान को करीम कहने का कोई धार्मिक आधार नहीं है। वहाबी मुफ़्ती सालेह बिन फ़ौज़ान अल-फ़ौज़ान ने तर्क दिया है कि करीम ईश्वर का नाम है, इसलिए रमज़ान को करीम कहना ग़लत है। उल्लेखनीय है कि वहाबी मुफ़्ती अपने अजीबो ग़रीब और अतार्किक फ़तवों के लिए जाने जाते हैं। अल-फ़ौज़ान ने कहा कि रमज़ान करीम कहना बिदअत है, इसलिए ऐसा कहना पाप है। हालांकि इस मुफ़्ती का कहना था कि रमज़ान मुबारक, रमज़ान शरीफ़ और रमज़ान अज़ीम कहने में कोई समस्या नहीं है, इसलिए कि हदीस में रमज़ान के महीने को इन गुणों से याद किया गया है। याद रहे कि शिया और सुन्नी विद्वानों का मानना है कि ख़ुद रमज़ान और अज़ीम ईश्वर के नामों में से हैं और यह सब ईश्वर की महानता को दर्शाते हैं।
..................................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :