Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 184217
Date of publication : 17/11/2016 16:13
Hit : 214

आईएस को मिली एक और शिकसत, इराक़ी फ़ोर्सेज़ द्वारा तलअफ़र एयरपोर्ट आज़ाद।

इराक़ी फ़ोर्सेज़ ने तलअफ़र के सैन्य एयरपोर्ट को आईएस के क़ब्ज़े से आज़ाद करा लिया है। यह एयरपोर्ट मूसिल से 77 किलोमीटर पश्चिम में स्थित है।

विलायत पोर्टलः इराक़ी फ़ोर्सेज़ ने तलअफ़र के सैन्य एयरपोर्ट को आईएस के क़ब्ज़े से आज़ाद करा लिया है। बुधवार को सूमरिया न्यूज़ के अनुसार, इराक़ी स्वयंसेवी बल ने इस एयरपोर्ट को आज़ाद कराया है। यह एयरपोर्ट मूसिल से 77 किलोमीटर पश्चिम में स्थित है। इराक़ी स्वयंसेवी बल इस कर्यवाही के दौरान तलअफ़र एयरपोर्ट के निकट स्थित तल्लुर रम्ज और तल-शियान गावों को और इसी प्रकार पूर्वी तलअफ़र में स्थित तल्लुस सौबान गांव को आईएस के चंगुल से आज़ाद कराया। इराक़ी फ़ोर्सेज़ ने इन गावों में लोगों के बीच खाद्य पदार्थ बांटे। इससे पहले इराक़ी सूत्रों ने तलअफ़र एयरपोर्ट की कई छोर से घेराबंदी और इराक़ी स्वयंसेवी बल तथा आतंकियों के बीच इस एयरपोर्ट के कम्पाउन्ड में झड़प छिड़ने की रिपोर्ट दी थी। इस कार्यवाही के दौरान इराक़ी स्वयंसेवी बल ने आईएस के एक कार बम को भी नाकाम बनाया। स्वयंसेवी बल की हिज़्बुल्लाह ब्रिगेड के प्रवक्ता जाफ़र हुसैनी ने भी रोयटर्ज़ को बताया कि आईएस के आतंकी इस एयरपोर्ट से तलअफ़र की ओर पीछे हट गए हैं। तलअफ़र को फिर से नियंत्रण में लेने से इराक़ के मूसिल और सीरिया में आईएस के नियंत्रण वाले क्षेत्र के बीच रसद की आपूर्ति का मार्ग कट जाएगा। इराक़ी स्वयंसेवी बल ने ऐसी हालत में तलअफ़र एयरपोर्ट को आईएस के चंगुल से आज़ाद कराया कि इराक़ी फ़ेडरल पुलिस नैनवा प्रांत के अलबूसैफ़ इलाक़े के दक्षिण में स्थित अलअज़बा गावं को आज़ाद कराने में सफल हुई और इस गांव में घरों पर इराक़ी झंडे फहराए। ज्ञात रहे इराक़ के नैनवा प्रांत के केन्द्र मूसिल की आज़ादी 17 अक्तूबर 2016 को इराक़ी प्रधान मंत्री के आदेश से शुरु हुआ।
....................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हिटलर की भांति विरोधी विचारधारा को कुचल रहे हैं ट्रम्प । ईरान, आत्मघाती हमलावर और आतंकी टीम में शामिल दो सदस्य पाकिस्तानी : सरदार पाकपूर सीरिया अवैध राष्ट्र इस्राईल निर्मित हथियारों की बड़ी खेप बरामद । ईरान को CPEC में शामिल कर सऊदी अरब और अमेरिका को नाराज़ नहीं कर सकता पाकिस्तान। भारत पहुँच रहा है वर्तमान का यज़ीद मोहम्मद बिन सलमान, कई समझौतों पर होंगे हस्ताक्षर । ईरान के कड़े तेवर , वहाबी आतंकवाद का गॉडफादर है सऊदी अरब अर्दोग़ान का बड़ा खुलासा, आतंकवादी संगठनों को हथियार दे रहा है नाटो। फिलिस्तीन इस्राईल मद्दे पर अरब देशों के रुख में आया है बदलाव : नेतन्याहू बहादुर ख़ानदान की बहादुर ख़ातून यह 20 अरब डॉलर नहीं शीयत को नाबूद करने की साज़िश की कड़ी है पैग़म्बर स.अ. की सीरत और इमाम ख़ुमैनी र.अ. की विचारधारा शिम्र मर गया तो क्या हुआ, नस्लें तो आज भी बाक़ी है!! इमाम ख़ुमैनी र.ह. और इस्लामी इंक़ेलाब की लोकतांत्रिक जड़ें हज़रत फ़ातिमा ज़हरा स.अ. के घर में आग लगाने वाले कौन थे? अहले सुन्नत की किताबों से एक बेटी ऐसी भी....