Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 184440
Date of publication : 3/12/2016 23:51
Hit : 255

नाइजीरियाई अदालत ने सुनाया शैख़ ज़कज़ाकी की रिहाई का फ़ैसला।

नाइजीरिया के इस्लामी आंदोलन के नेता शैख़ इब्राहीम ज़कज़की की एक साल से ज़्यादा समय तक गिरफ़्तारी के बाद, उनकी रिहाई का आदेश जारी हुआ।

विलायत पोर्टलः नाइजीरिया की अदालत ने शैख़ ज़कज़की की रिहाई का आदेश जारी कर दिया है। नाइजीरिया के इस्लामी आंदोलन के नेता शैख़ इब्राहीम ज़कज़की की एक साल से ज़्यादा समय तक गिरफ़्तारी के बाद, उनकी रिहाई का आदेश जारी हुआ। अबूजा में न्यायाधीश गैब्रियल कोलावोले की अध्यक्षता में नाइजीरिया की सर्वोच्च फ़ेडरल अदालत ने आदेश दिया कि शैख़ ज़कज़की को बिना शर्त 45 दिन के अंदर रिहा किया जाए। इस अदालत ने बिना मुक़द्दमे में शैख़ ज़कज़की की उनकी बीवी के साथ गिरफ़्तारी को मानवाधिकार का उल्लंघन बताया और प्रशासन के इस दावे को ख़ारिज कर दिया कि उनकी गिरफ़्तारी का उद्देश्य उनकी रक्षा थी। शैख़ ज़कज़की और उनकी बीवी को पिछले साल ज़ारया शहर में इमामबाड़े पर नाइजीरियाई सैनिकों के हमले और इस इमामबाड़े में इमाम हुसैन के सैकड़ों श्रद्धालुओं के जनसंहार के एक दिन बाद गिरफ़्तार किया गया। उस समय से अब तक उन्हें जेल में बहुत ही दयनीय स्थिति में रखा गया। नाइजीरियाई सैनिकों की बर्बरता और शैख़ ज़कज़की की सही देखभाल न होने के कारण उनकी एक आंख बेकार हो गयी और उनके जिस्म के एक भाग पर फ़ालिज का असर हो गया। यह बिन्दु भी महत्वपूर्ण है कि पिछले कुछ साल के दौरान अफ़्रीक़ा के क्षेत्रीय हालात और विशिष्टता हासिल करने पर आधारित नीति की नाकामी के बाद, ज़ायोनी शासन और सऊदी अरब नाइजीरिया सहित अफ़्रीक़ा के कुछ दूसरे देशों में पैठ बनाने की कोशिश कर रहे हैं। इसी प्रकार वे सैन्य एवं वित्तीय मदद के ज़रिए वहाबियत को फैलाने और अपनी नीति लागू करने के लिए नाइजीरिया में मुसलमानों पर दबाव डालने की कोशिश कर रहे हैं। नाइजीरिया के मुसलमानों ने इस देश में विभिन्न इलाक़ों में प्रदर्शन के ज़रिए चेतावनी दी थी कि अगर शैख़ ज़कज़की को जल्द रिहा न किया गया तो वे जल्द ही व्यापक पैमाने पर प्रदर्शन करेंगे। एक साल से ज़्यादा समय गुज़रने पर इन विरोध प्रदर्शनों के बाद, नाइजीरिया की अदालत ने शैख़ ज़कज़की की रिहाई का हुक्म दिया। यह आदेश ख़ुद शैख़ ज़कज़की की बेगुनाही को दर्शाता है।
....................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हिटलर की भांति विरोधी विचारधारा को कुचल रहे हैं ट्रम्प । ईरान, आत्मघाती हमलावर और आतंकी टीम में शामिल दो सदस्य पाकिस्तानी : सरदार पाकपूर सीरिया अवैध राष्ट्र इस्राईल निर्मित हथियारों की बड़ी खेप बरामद । ईरान को CPEC में शामिल कर सऊदी अरब और अमेरिका को नाराज़ नहीं कर सकता पाकिस्तान। भारत पहुँच रहा है वर्तमान का यज़ीद मोहम्मद बिन सलमान, कई समझौतों पर होंगे हस्ताक्षर । ईरान के कड़े तेवर , वहाबी आतंकवाद का गॉडफादर है सऊदी अरब अर्दोग़ान का बड़ा खुलासा, आतंकवादी संगठनों को हथियार दे रहा है नाटो। फिलिस्तीन इस्राईल मद्दे पर अरब देशों के रुख में आया है बदलाव : नेतन्याहू बहादुर ख़ानदान की बहादुर ख़ातून यह 20 अरब डॉलर नहीं शीयत को नाबूद करने की साज़िश की कड़ी है पैग़म्बर स.अ. की सीरत और इमाम ख़ुमैनी र.अ. की विचारधारा शिम्र मर गया तो क्या हुआ, नस्लें तो आज भी बाक़ी है!! इमाम ख़ुमैनी र.ह. और इस्लामी इंक़ेलाब की लोकतांत्रिक जड़ें हज़रत फ़ातिमा ज़हरा स.अ. के घर में आग लगाने वाले कौन थे? अहले सुन्नत की किताबों से एक बेटी ऐसी भी....