Wed - 2018 Sep 19
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185033
Date of publication : 12/1/2017 16:52
Hit : 141

अफ़गानिस्तान की प्रगति ईरान की प्रगति हैः आयतुल्लाह ख़ामनेई

ईरान ने अमेरिका और ब्रिटेन जैसे कुछ देशों के विपरीत हमेशा अफ़गान जनता को सम्मान की दृष्टि से देखा है और उसके साथ मित्रतापूर्ण व्यवहार किया है।


विलायत पोर्टलः
ईरान ने अमेरिका और ब्रिटेन जैसे कुछ देशों के विपरीत हमेशा अफ़गान जनता को सम्मान की दृष्टि से देखा है और उसके साथ मित्रतापूर्ण व्यवहार किया है। अफ़गानिस्तान की सरकार के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह ने ईरान के राष्ट्रपति डॉक्टर हसन रूहानी से तेहरान में मुलाक़ात की। इस मुलाक़ात में राष्ट्रपति हसन रूहानी ने अफ़गानिस्तान में शांति, सुरक्षा, राजनीतिक स्थिरता और राष्ट्रीय एकता को इस देश के विकास और अफगान जनता के कल्याण का मूल स्तंभ बताया और कहा कि ईरान अफगानिस्तान की जनता और सरकार की मदद में किसी तरह के संकोच से काम नहीं लेगा। इसी तरह राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि आतंकवाद, अफ़गानिस्तान ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लिए बहुत बड़ी समस्या है और उससे मुकाबले की ज़रूरत है। इस मुलाक़ात में अफ़गानिस्तान की सरकार के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह ने आयतुल्लाह हाशमी रफसंजानी के निधन पर अफ़गानिस्तान की जनता और सरकार की तरफ़ से संवेदना प्रकट की और कहा कि आयतुल्लाह हाशमी रफसंजानी अफगान जनता के लिए एक जानी पहचानी हस्ती हैं और हमारी जनता किसी भी हालत में विशेष कठिन परिस्थितियों में उनकी सहायताओं को भूल नहीं सकती। उन्होंने इसी प्रकार कहा कि ईरान हमेशा अफगान सरकार और जनता का समर्थक रहा है और इस देश की जनता संकल्प रखती है कि ईरान के साथ एक मित्र देश के रूप में अपने संबंध हर क्षेत्र में बढ़ाए। ईरान ने अमेरिका और ब्रिटेन जैसे कुछ देशों के विपरीत सदैव अफ़गान जनता को सम्मान की दृष्टि से देखा है और उसके साथ मित्रतापूर्ण व्यवहार किया है। जिस तरह ईरान और अफ़ग़ानिस्तान के संयुक्त हैं उसी तरह दोनों देशों को संयुक्त चुनौतियों का भी सामना है। ब्रिटेन के हस्तक्षेप से लेकर रूसी सेना के हमले, अमेरिका के अतिग्रहण और नैटो की उपस्थिति से अब तक अफगानिस्तान को गम्भीर आघात पहुंचा है। अफ़गानिस्तान की समस्याओं का समाधान ईरान के लिए महत्वपूर्ण है। काफी समय से अफ़गानिस्तान को मादक पदार्थों की खेती और उसकी तस्करी की समस्या का सामना है और यह वह विषय है जो अफ़गानिस्तान के साथ उसके पड़ोसी देशों के लिए भी चिंता का कारण है परंतु अमेरिका और क्षेत्र के कुछ देश अफ़गानिस्तान की समस्याओं के समाधान के इच्छुक नहीं हैं जबकि क्षेत्रीय संबंधों में मज़बूती, क्षेत्र में शांति व सुरक्षा के मजबूत होने की भूमिका बन सकती है। ईरान की इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामनेई द्वारा पिछले वर्ष मई महीने में अफगानिस्तान के राष्ट्रपति से मुलाक़ात में ज़ोर दिये जाने को इसी परिप्रेक्ष्य में देखा जा सकत है जिसमें उन्होंने कहा था कि इस्लामी रिपब्लिक ईरान हमेशा अफ़गानिस्तान के हितों और सुरक्षा को विशेष महत्व की दृष्टि से देखता है और समस्त क्षेत्रों में अफ़गानिस्तान की प्रगति को अपनी प्रगति समझता है।
...................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :