Thursday - 2018 Oct 18
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185104
Date of publication : 17/1/2017 16:34
Hit : 129

बंग्लादेश में 26 लोगों को हत्या के आरोप में सुनाई गई फांसी की सज़ा।

बंग्लादेश की एक अदालत ने सोमवार को इस ख़बर के सामने आने के बाद कि सत्ताधारी पार्टी अवामी लीग के एक नेता सुरक्षा बलों को अपने प्रतिद्वंदवी नेताओं की हत्या के लिए इस्तेमाल किया करते थे, 26 लोगों को फांसी की सज़ा सुनाई।
विलायत पोर्टलः बंग्लादेश की एक अदालत ने सोमवार को इस ख़बर के सामने आने के बाद कि सत्ताधारी पार्टी अवामी लीग के एक नेता सुरक्षा बलों को अपने प्रतिद्वंदवी नेताओं की हत्या के लिए इस्तेमाल किया करते थे, 26 लोगों को फांसी की सज़ा सुनाई। फ़्रांस प्रेस के अनुसार, बंग्लादेश के जज सय्यद इनायत हुसैन ने अप्रैल 2014 में नारायणगंज शहर में 7 लोगों के अपहरण और हत्या के मामले में 35 लोगों को दोषी ठहराया। उन्होंने एक साल तक चली मुक़द्दमे की कार्यवाही के बाद इनमें से 26 दोषियों को मौत की सज़ा और 9 दोषियों को 7 से लेकर 17 साल तक क़ैद की सज़ा सुनायी है। बंग्लादेश के न्यायिक अधिकारियों ने कहा है नारायणगंज में अवामी लीग पार्टी के सदस्य नूर हुसैन ने नज़रुल इस्लाम और उनके चार सहायकों की सुरक्षा बलों के हाथों हत्या कराई। बंग्लादेश में 2010 में शैख़ हसीना की सरकार के सत्ता में आने के बाद से इस देश में अदालत ने बहुत से अपराधियों को युद्ध अपराध व हत्या के लिए मौत की सज़ा सुनाई है। इस देश में मानवाधिकार समर्थक गुटों ने इस तरह की अदालती कार्यवाही की आलोचना करते हुए कहा है कि बंग्लादेश में अदालती कार्यवाही अंतर्राष्ट्रीय मानदंड के अनुसार नहीं होती।
...................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :