Thursday - 2018 July 19
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185162
Date of publication : 22/1/2017 9:0
Hit : 128

इस्राईल के पूर्वी अलक़ुद्स की भौगोलिक व जनांकिकीय संरचना को बदलना चाहते हैं ट्रम्प।

अमेरीका के नए राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के वाइट हाउस में पहुंचते ही ज़ायोनी शासन ने 2700 नए घरों के निर्माण की योजना को पारित कर दिया।

विलायत पोर्टलः
अमेरीका के नए राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के वाइट हाउस में पहुंचते ही ज़ायोनी शासन ने 2700 नए घरों के निर्माण की योजना को पारित कर दिया। शायद यह कहना ग़लत न होगा कि अतिग्रहित फ़िलिस्तीन की ज़मीनों पर अवैध ज़ायोनी बस्तियों से चरमपंथी प्रतिनिधी इसलिए ट्रम्प के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे थे कि ट्रम्प को अतिग्रहित फ़िलिस्तीन में नई बस्तियों के निर्माण से संबंधित उनके चुनावी वादे को याद दिलाएं। ज़ायोनी शासन को अमेरीका की ओर से भरपूर समर्थन, अतिग्रहित पश्चिमी तट में कॉलोनियों के निर्माण का समर्थन, अमेरीकी दूतावास को तेल अविव से क़ुद्स स्थानांतरित करने का एलान, तेल अविव में अमेरीकी दूतावास के मुखिया के रूप में एक यहूदी की नियुक्ति और इस्राईल-फ़िलिस्तीन वार्ता में भी अमेरीकी प्रतिनिधि के रूप में एक यहूदी की नियुक्ति ट्रम्प की नीतियां हैं। इस्राईल की पूर्वी अलक़ुद्स की भौगोलिक व जनांकिकीय संरचना को बदलने की कोशिश पर संयुक्त राष्ट्र राष्ट्र संघ सहित विश्व समुदाय की ओर से प्रतिक्रिया सामने आई है। संयुक्त राष्ट्र संघ विगत के वर्षों में ज़ायोनी शासन की विस्तारवादी नीतियों के ख़िलाफ़ प्रस्ताव नंबर 478 सहित अनेक प्रस्ताव पारित कर चुका है। अमेरीका की ओर से इस्राईल की अवैध बस्तियों के निर्माण का समर्थन, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव नंबर 2334 का खुला उल्लंघन है। अमेरीका की ओर से इस्राईल की विस्तारवादी नीतियों का समर्थन यह दर्शाता है कि अमेरीका ने ज़ायोनी शासन की अवैध बस्तियों की निंदा में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पारित होने वाले प्रस्ताव के ख़िलाफ़ जाने का इरादा किया है। यह विषय दर्शाता है कि ज़ायोनी शासन अमरीका की ओर से समर्थन की छत्रछाया में अपनी विस्तारवादी नीतियों को जारी रखेगा। ऐसे हालात में फ़िलिस्तीनियों को अमेरीका और इस्राईल की संयुक्त साज़िश से निपटने के लिए पहले से ज़्यादा सतर्क रहने की ज़रूरत है। दर अस्ल ज़ायोनी शासन कॉलोनियों के निर्माण के ज़रिए फ़िलिस्तीनी क्षेत्रों को एक दूसरे से अलग कर, पूर्वी अलक़ुद्स की राजधानी वाले एक स्वाधीन फ़िलिस्तीनी देश के गठन को रोकने के कोशिश में है।
...................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :