Thursday - 2018 July 19
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185265
Date of publication : 26/1/2017 13:43
Hit : 122

अमेरिकन सिनेटरः आतंकवादियों की मदद बंद करे अमेरिका।

आप कुछ भी सोचे लेकिन असद सीरिया के राष्ट्रपति है और उनके बिना सीरिया समस्या का कोई स्थायी समाधान नहीं हो सकता।


विलायत पोर्टलः अमेरिकी सिनेट सदस्य तोलसि गबार्ड ने राष्ट्रपति बश्शार असद से ख़ुफ़िया मुलाक़ात के बाद कहा है कि अमेरिका को चाहिए कि वो आंतकवादियो की तुर्की या सऊदी अरब अथवा किसी अन्य रास्ते से सहायता न करे
अमेरिकी पार्लियामेंट में डेमोक्रेट पार्टी की सदस्य तोलसि गबार्ड ने यह बातें बुधवार को एक प्रेस कांफ़्रेंस में कहीं।
उनका बयान सीरिया के एक महीने के दौरे के बाद आया है जिसमे उन्होंने युद्ध पीड़ित लोगों, सीरियन आर्मी और राष्ट्रपति बश्शार असद से भी मुलाक़ात की थी।
ज्ञात रहे २०११ से ही आंतकवादी गुटों ने सीरियन आर्मी पर हमले शुरू कर रखे है और यूरोप बश्शार असद के सत्ता से हटने को सीरिया समस्या का समाधान मानता आ रहा है। 
गबार्ड ने कहा की आरम्भ में वह असद से मिलना नहीं चाहती थी लेकिन फिर उन्हें इस मुलाक़ात के महत्व का अंदाज़ा हुआ उन्होंने कहा है कि अगर समय हो तो इस समस्या को हल करने के लिए हमें सब पक्षों से मिलने के लिए तैयार रहना होगा।
उन्होंने सी एन एन से बात करते हुए कहा कि आप कुछ भी सोचे लेकिन असद सीरिया के राष्ट्रपति है और उनके बिना सीरिया समस्या का कोई स्थायी समाधान नहीं हो सकता।
३५ वर्षीय गबार्ड  ने जो हवाई नेशनल गार्ड की मिम्बर भी है ट्रम्प की जीत के दो हफ्ते बाद असद से मुलाक़ात की इस मुलाक़ात से इन बातों को बल मिला है कि ट्रम्प उन्हें सीरिया मामले में विशेष दूत बना सकते हैं।
उन्होंने कहा कि हमें आतंकवादियो को हथियार ट्रैंनिंग और किसी भी रूप में सीधी सहायता के साथ साथ तुर्की और सऊदी अरब द्वारा दी जाने वाली सहायता को भी रोकना होगा।
सीरिया लंबे अरसे से तुर्की क़तर और सऊदी अरब द्वारा आतंकवादियों के समर्थन की बात कहता रहा है।
अमेरिका और उसके सहयोगी सितम्बर २०१४ से दाइश पर हवाई हमले करते रहे है वही आतंकवादी जिन्हें खुद सीआईए ने जॉर्डन में साल २०१२  में राष्ट्रपति बश्शार असद के खिलाफ हथियार बन्द ट्रेनिंग दी थी।
पर्यवेक्षकों के अनुसार इन हमलों ने आतंकवादियों को कोई खास हानि नहीं पहुंचाई बल्कि इन हमलों का असली मक़सद सीरिया के बुनियादी ढांचे को  कमजोर करना है।



आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :