Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 185390
Date of publication : 31/1/2017 20:38
Hit : 351

मनोवैज्ञानिकों ने दी चेतावनी: ट्रम्प आत्ममोह की मानसिक बीमारी से ग्रस्त।

मनोवैज्ञानिकों ने हाल ही में कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति में आत्म मुग्धता नामक मानसिक बीमारी के सभी लक्षण पाए जाते हैं।


विलायत पोर्टलः मनोवैज्ञानिकों ने हाल ही में कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति में आत्म मुग्धता नामक मानसिक बीमारी के सभी लक्षण पाए जाते हैं। उन्होंने कहा है कि ट्रम्प में घातक स्तर पर यह बीमारी पाई जाती है और वह व्यवहारिक द्र्ष्टि से राष्ट्रपति पद के उपयुक्त नहीं हैं। वह मानते है की ट्रम्प में घातक आत्म मोह पाया जाता है मनो चिकित्सा की भाषा में आत्म मुग्धता से पीड़ित व्यकित असमाजिक एवं परपीड़न का आदी होता है।
वरिष्ठ मनोवैज्ञानिक ड़ा जौली फात्लर ने न्यूयार्क टाइम्स से बात करते हुए कहा कि आत्म मुग्धता ट्रम्प की सबसे मामूली बीमारी है| आत्म मुग्धता से पीड़ित आदमी अपना सही मूल्यांकन नही कर पाता तथा विरोधियों को लॉजिकल उत्तर देने मे असमर्थ रहता है।
उन्होने कहा कि 30 लाख से अधिक महिलओं ने उनके खिलाफ प्रदर्शन किया लेकिन उन्होने कोई प्रतिक्रिया नही दी। सलाहकारों ने कहा कि यह राजनिती कारगर नहीं है लेकिन उन्होने इसे भी कोई महत्व नही दिया।
ज्ञात रहे कि अमेरिका के ३ वरिष्ठ मनोवैज्ञानिकों ने दिसम्बर मे तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति को लिखे खत मे ट्रम्प की मानसिक हालत को लेकर चिंता प्रकट की थी।
कैलिफोर्निया और हार्वर्ड यूनिवसिटी से सम्बन्धित इन डॉक्टर्स का कहना था कि ट्रम्प की अस्थिरता, आडंबरपूर्ण  व्यवहार और अत्यधिक संवेदनशीलता तथा कल्पना और हक़ीक़त में फ़र्क़ न कर पाने से हम चिंतित हैं।
इस लेटर में उन्होंने ओबामा से आग्रह किया था की वह ट्रम्प की पूर्ण चिकित्सा और तंत्रिका संबंधी मूल्यांकन का आदेश दें। ट्रम्प की जीत के बाद हज़ारों मनोवैज्ञानिकों की टीम ने ट्रम्प की कार्यपद्वति पर सवाल उठाये है।
ज्ञात रहे डेमोक्रैट पार्टी से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हिलेरी किलंटन ने भी कहा था कि ट्रम्प मानसिक रूप से अमेरिकी फौजों का नेतृत्व करने की योग्यता नहीं रखते।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव का सम्मान करते हैं लेकिन इस्राईल की नकेल कसो : लेबनान दक्षिण कोरिया ने आंग सान सू ची से ग्वांगजू पुरस्कार वापस लेने का फैसला किया । सूडान ने इस्राईल के अरमानों पर पानी फेरा, संबंध सामान्य करने से किया इंकार । हज़रत फ़ातिमा मासूमा स.अ. सऊदी अरब का अमेरिका को कड़ा संदेश, हमारे मामले में मुंह बंद रखे सीनेट । इदलिब की आज़ादी प्राथमिकता, अतिक्रमणकारियों को सीरिया से भागना ही होगा : दमिश्क़ हाउस ऑफ़ लॉर्ड्स की मांग, अमेरिका से राजनैतिक संबद्धता कम करे इंग्लैंड। अवैध राष्ट्र ने लगाई गुहार, लेबनान सेना पर दबाव बनाए अमेरिका । अमेरिकी गठबंधन आतंकी संगठनों की मदद से सीरिया के तेल संपदा को लूटने में व्यस्त । मासूमा ए क़ुम स.अ. की शहादत के शोक में डूबा ईरान, क़ुम समेत देश भर में मातम । अमेरिका ने स्वीकारा, असद को पदमुक्त करना उद्देश्य नहीं । सिर्फ दो साल, और साठ हज़ार लोगों की जान ले चुका है यमन संकट । हमास ने दिया इस्राईल को गहरा झटका, पकडे गए ड्रोन विमानों का क्लोन बनाया । आले सऊद की काली करतूत, क़तर पर हमला कर हड़पने की साज़िश का भंडाफोड़ । रूस मामलों में पोम्पियो की कोई हैसियत नहीं, अमेरिका की विदेश नीति का भार जॉन बोल्टन के कंधों पर : लावरोफ़