Wed - 2018 Sep 26
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 186103
Date of publication : 8/3/2017 17:3
Hit : 390

बहरैन में बहुसंख्यक शियाओं के खिलाफ व्यापक स्तर पर भेदभाव जारी।

कुछ बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने स्पष्ट कहा है कि उन पर दबाव डाला जाता रहा है कि वह शिया कर्मचारी का प्रमोशन न करें । बहरैन संविधान भी उन्हें सुरक्षा क्षेत्र एवं अन्य महत्वपूर्ण पद पर नियुक्ति से रोकता है ।

विलायत पोर्टल : संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग की जेनेवा में आयोजित “खाड़ी देशों में साम्प्रदायिक आज़ादी” बैठक में भाग लेते हुए शैख़ मीसम सलमान ने कहा कि बहरैन के 80% निवासियों को सरकारी नियुक्तियों में भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है। उनके अनुसार देश की आबादी का 80% भाग शिया समुदाय का है जिन्हें विशेष रूप से सरकारी नियुक्तियों में भेदभाव का सामना करना पड़ रहा है।
उन्होंने आधिकारिक रिपोर्ट के हवाले से कहा कि कुछ बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने स्पष्ट कहा है कि उन पर दबाव डाला जाता रहा है कि वह शिया कर्मचारी का प्रमोशन न करें। बहरैन संविधान भी उन्हें सुरक्षा क्षेत्र एवं अन्य महत्वपूर्ण पद पर नियुक्ति से रोकता है।
दूसरी ओर बहरैन में शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों के दमन का सिलसिला जारी है तथा शैख़ ईसा क़ासिम की असंवैधानिक नज़रबन्दी भी यथावत जारी है।

 ...........
प्रेस टीवी


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :