Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 187021
Date of publication : 2/5/2017 11:5
Hit : 115

अवैध राष्ट्र और जर्मनी के बिगड़ते राजनैतिक संबंध ।

नेतन्याहू ने फोन कर विदेशमंत्री सिग्मर गैब्रिएल से बात करने का प्रयास किया ताकि वह सफाई दे सके कि वह यहूदी संगठन से उनकी मुलाक़ात का विरोध क्यों कर रहे थे लेकिन सिग्मर ने नेतन्याहू से कोई बात करने से इंकार कर दिया ।

विलायत पोर्टल :
जैसे जैसे समय बीत रहा है अवैध राष्ट्र और जर्मनी के संबंधों में खटास बढ़ती जा रही है । सूत्रों के अनुसार जर्मनी और अवैध राष्ट्र के बीच बढ़ती यह दूरी दोनों देशों के लिए राजनैतिक संकट खड़ा कर सकती है । एक ज़ायोनी समाचार पत्र ने एक राजनेता के हवाले से जर्मनी से बिगड़ते संबंधों पर लिखा है कि जर्मनी ने यूनेस्को में अवैध राष्ट्र के विरुद्ध प्रस्ताव पर वीटो नहीं किया बल्कि उसके विरुद्ध जाते हुए अरब राष्ट्रों से नज़दीकी संबंध स्थापित करने का प्रयास कर रहा है । गत सप्ताह अवैध राष्ट्र विदेश मंत्रालय के वरिष्ठ सलाहकार ने तल अवीव में जर्मन राजदूत को बुलाकर यूनेस्को में जर्मनी के व्यवहार को लेकर कड़ी आपत्ति जताई थी.। ज्ञात रहे कि ज़ायोनी प्रधानमंत्री ने गत सप्ताह जर्मन विदेशमंत्री से मुलाक़ात के कार्यक्रम को इस लिए रद्द कर दिया था क्योंकि जर्मन विदेशमंत्री ने नेतन्याहू के विरोध को दर किनार करते हुए दो यहूदी संगठनों से भेंट की थी । जर्मन विदेशमंत्री ने नेतन्याहू से भेंट के कार्यक्रम को अधिक महत्व नहीं दिया लेकिन जर्मनी के मीडिया ने इसे अपमान बताया तो नेतन्याहू ने फोन कर विदेशमंत्री सिग्मर गैब्रिएल से बात करने का प्रयास किया ताकि वह सफाई दे सके कि वह यहूदी संगठन से उनकी मुलाक़ात का विरोध क्यों कर रहे थे लेकिन सिग्मर ने नेतन्याहू से कोई बात करने से इंकार कर दिया । ज्ञात रहे कि जर्मनी और अवैध राष्ट्र के संबंध अपने बुरे दौर से गुज़र रहे हैं । जर्मन अधिकारियों के अनुसार ट्रम्प के सत्ता सँभालते ही ज़ायोनी नेतृत्व के बदले हावभाव तथा फिलिस्तीनी भूमि पर अवैध आवासीय निर्माण दोनों देशों के संबंधों में खटास का कारण बना है । जर्मनी ने फिलिस्तीनी भूमि पर अवैध निर्माण का विरोध करते हुए अगले महीने होने वाली जर्मनी - अवैध राष्ट्र वार्षिक बैठक को स्थगित कर दिया है ।
.............
तसनीम


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

इंसान मौत के समय किन किन चीज़ों को देखता है? हिटलर की भांति विरोधी विचारधारा को कुचल रहे हैं ट्रम्प । ईरान, आत्मघाती हमलावर और आतंकी टीम में शामिल दो सदस्य पाकिस्तानी : सरदार पाकपूर सीरिया अवैध राष्ट्र इस्राईल निर्मित हथियारों की बड़ी खेप बरामद । ईरान को CPEC में शामिल कर सऊदी अरब और अमेरिका को नाराज़ नहीं कर सकता पाकिस्तान। भारत पहुँच रहा है वर्तमान का यज़ीद मोहम्मद बिन सलमान, कई समझौतों पर होंगे हस्ताक्षर । ईरान के कड़े तेवर , वहाबी आतंकवाद का गॉडफादर है सऊदी अरब अर्दोग़ान का बड़ा खुलासा, आतंकवादी संगठनों को हथियार दे रहा है नाटो। फिलिस्तीन इस्राईल मद्दे पर अरब देशों के रुख में आया है बदलाव : नेतन्याहू बहादुर ख़ानदान की बहादुर ख़ातून यह 20 अरब डॉलर नहीं शीयत को नाबूद करने की साज़िश की कड़ी है पैग़म्बर स.अ. की सीरत और इमाम ख़ुमैनी र.अ. की विचारधारा शिम्र मर गया तो क्या हुआ, नस्लें तो आज भी बाक़ी है!! इमाम ख़ुमैनी र.ह. और इस्लामी इंक़ेलाब की लोकतांत्रिक जड़ें हज़रत फ़ातिमा ज़हरा स.अ. के घर में आग लगाने वाले कौन थे? अहले सुन्नत की किताबों से