Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 187198
Date of publication : 10/5/2017 19:53
Hit : 711

ईरान की सुरक्षा व्यवस्था से खिलवाड़ करने वाले होशियार रहें : आयतुल्लाह ख़ामेनई

उनका उद्देश्य इस्लामी सत्ता प्रणाली को नष्ट करना है। वह कभी खुल कर कहते थे कि हम इस्लामी क्रांति को विफल कर देंगे लेकिन अपनी योजना में नाकाम होने के बाद अब सिस्टम में बदलाव लाने की बात करते हैं ।

विलायत पोर्टल :
  इमाम हुसैन यूनिवर्सिटी के फैकल्टी ऑफ़ गार्ड्ज़ और सेक्युरिटी ट्रेनिंग के पासिंग आउट ऑफिसर्स समारोह को सम्बोधित करते हुए आयतुल्लाह ख़ामेनई ने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव में देश की सुरक्षा और क़ानून व्यवस्था एक अहम् मुद्दा है । संबंधित अधिकारी देश की सुरक्षा व्यवस्था को सुनिश्चित करे, सुरक्षा व्यवस्था से खिलवाड़ करने वालों को माफ़ नहीं किया जायेगा । हमारे लिए राष्ट्रपति चुनाव कोई नया मामला नहीं है हमें ३८ सल का अनुभव है । हमें अपने शत्रु की गतिविधियों पर नज़र रखना होगी तथा उनके लिए कोई अवसर नहीं बनाना है, उनका उद्देश्य इस्लामी सत्ता प्रणाली को नष्ट करना है। वह कभी खुल कर कहते थे कि हम इस्लामी क्रांति को विफल कर देंगे लेकिन अपनी योजना में नाकाम होने के बाद अब सिस्टम में बदलाव लाने की बात करते हैं । अगर लोग इस्लामी सिद्धांतों और आचरण का प्रदर्शन करते हुए इन चुनावों में भाग लें तो यह चुनाव इस्लामी राष्ट्र के लिए गौरवशाली होगा लेकिन अगर हमने इस्लामी आचरण के विरुद्ध दुश्मन की उम्मीदों के अनुरूप इस प्रक्रिया में भाग लिया तो यह हमारे लिए हानिकारक सिद्ध होगा । आयतुल्लाह ख़ामेनई ने कहा कि दुश्मन हमारी सुरक्षा व्यवस्था को बिगाड़ने की साज़िशों में लगा हुआ है। उन्होंने कहा कि हमारा दुश्मन नहीं चाहता कि ईरान आर्थिक मोर्चे पर आगे बढे वह हमारी आर्थिक समृद्धि को रोकना चाहते हैं । मैं राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों को सलाह देता हूँ कि वह स्पष्ट रूप से घोषणा करे कि देश की अर्थव्यवस्था और जनता की आर्थिक स्थिति में सुधार उनका प्रमुख लक्ष्य है । वह स्पष्ट रूप से घोषणा करे कि वह सदैव अमेरिका की चौधराहट और ज़ायोनी राष्ट्र के जघन्य अपराधों के विरुद्ध खड़े हैं ।
..............
तसनीम


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

इंग्लैंड में हर साल 5200 लोग इस्लाम क़ुबूल कर रहे हैं… सीरिया में एक बार फिर तनाव बढ़ा, तुर्की की विस्तारवादी नीतिया चरम पर । ईरान पर आतंकी हमला, बिन सलमान ने दिया पाकिस्तान को 20 अरब डॉलर का इनाम : डी मेडी टेलीग्राफ ज़रूरत पड़ी तो अमेरिका को हमलों का निशाना बनाने को तैयार : रूस हिज़्बुल्लाह ने सेना और देशवासियों के साथ मिलकर लेबनान को सीरिया जैसी दुर्दशा से बचा लिया । पुतिन की नसीहत , विनाशकारी सियासत से बाज़ आए अमेरिका क़तर का आले सऊद पर हमला, हज को राजनैतिक हथियार के रूप में प्रयोग कर रहा है सऊदी अरब। सऊदी युवराज की भारत यात्रा के विरोध में हुए विशाल विरोध प्रदर्शन । वेनेज़ुएला संकट, अमेरिकी हस्तक्षेप की आशंका , सेना हाई अलर्ट । दमिश्क़ कुर्दों का समर्थन करने के लिए तैयार । इंसान मौत के समय किन किन चीज़ों को देखता है? हिटलर की भांति विरोधी विचारधारा को कुचल रहे हैं ट्रम्प । ईरान, आत्मघाती हमलावर और आतंकी टीम में शामिल दो सदस्य पाकिस्तानी : सरदार पाकपूर सीरिया अवैध राष्ट्र इस्राईल निर्मित हथियारों की बड़ी खेप बरामद । ईरान को CPEC में शामिल कर सऊदी अरब और अमेरिका को नाराज़ नहीं कर सकता पाकिस्तान।