Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 188989
Date of publication : 12/8/2017 18:13
Hit : 888

हिज़्बुल्लाह के हाथों मिली शर्मानक हार नहीं भुला पायेगा इस्राईल ।

यह बहुत अहम् युद्ध था जिस में अवैध राष्ट्र, अरब देशों और अमेरिका के भरपूर आर्थिक तथा सैन्य सहयोग के साथ प्रतिरोधी आन्दोलन को कुचलने के इरादे से मैदान में उतरा था । लेकिन हम ईरान की सहायता से दुश्मन के इरादों को मिट्टी में मिलाने में सफल रहे तथा इस जंग में हमारी जीत के साथ ही अवैध राष्ट्र की उल्टी गिनती शुरू हो गयी।

विलायत पोर्टल : 
प्राप्त जानकारी के अनुसार हिज़्बुल्लाह के प्रचार दफ्तर के उप प्रमुख अली तुफ़ैली ने हिज़्बुल्लाह - अवैध राष्ट्र के ३३ दिवसीय युद्ध का उल्लेख करते हुए तेहरान में वक्तव्य देते हुए कहा कि प्रतिरोध की हर विजय में ईरानी जनता हमारे साथ साथ है । उन्होंने कहा कि यह कोई मामूली युद्ध नहीं था जिसका असर थोड़े से समय के लिए हो, बल्कि यह बहुत अहम् युद्ध था जिस में अवैध राष्ट्र, अरब देशों और अमेरिका के भरपूर आर्थिक तथा सैन्य सहयोग के साथ प्रतिरोधी आन्दोलन को कुचलने के इरादे से मैदान में उतरा था । लेकिन हम ईरान की सहायता से दुश्मन के इरादों को मिट्टी में मिलाने में सफल रहे तथा इस जंग में हमारी जीत के साथ ही अवैध राष्ट्र की उल्टी गिनती शुरू हो गयी। इस बार साम्राज्यवादी शक्तियों ने आर्थिक सैन्य तथा तकनीकी सहायता के साथ वहाबी आतंकी संगठनों को हमारे विरुद्ध मैदान में उतारा लेकिन इस बार भी उन्हें मुंह की खानी पड़ी । उन्होंने कहा कि हमे सुप्रीम लीडर के नेतृत्व में एकजुट रहना होगा तथा उनके आदेश का पालन करना होगा हिज़्बुल्लाह की प्रगति और हर मोर्चे पर जीत अपने केंद्र अर्थात सुप्रीम लीडर और इमाम खुमैनी के सिद्धांतों पर चलने के कारण हासिल हुई है ।
.......................
 अलआलम


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हश्दुश शअबी का आरोप , आईएसआईएस को इराकी बलों की गोपनीय जानकारी पहुंचाता था अमेरिका ईरान के पयाम सैटेलाइट ने इस्राईल और अमेरिका को नई चिंता में डाला सीरिया की स्थिरता और सुरक्षा, इराक की सुरक्षा का हिस्सा : बग़दाद आले सऊद की नई करतूत , सऊदी अरब में खुले नाइट कलब और कैसीनो । अमेरिका ने सीरिया से भाग कर ईरान, रूस और बश्शार असद को शक्तिशाली किया । ज़ुबान के इस्तेमाल के फ़ायदे और नुक़सान । सीरिया के विभाजन की साज़िश नाकाम, अमेरिका ने कुर्दों को दिया धोखा । सीरिया में अमेरिका का स्थान लेंगी मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात की सेना । बैतुल मुक़द्दस से उठने वाली अज़ान की आवाज़ पर लगेगी पाबंदी । दमिश्क़ की ओर पलट रहे हैं अरब देश, इस्राईल हारा हुआ जुआरी : ज़ायोनी टीवी शहीद बाक़िर अल निम्र, वह शेर मर्द जिसका नाम सुनकर आज भी लरज़ जाते हैं आले सऊद बश्शार असद की हत्या ज़ायोनी चीफ ऑफ स्टाफ की पहली प्राथमिकता ? यमन के सक़तरी द्वीप पर संयुक्त अरब अमीरात की नज़र क़तर के पूर्व नेता का सवाल, सऊदी अरब में कोई बुद्धिमान है जो सोच विचार कर सके ? अंसारुल्लाह का आरोप , यमन के लिए दूषित भोजन खरीद रहा है डब्ल्यू.एच.पी