Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 189080
Date of publication : 17/8/2017 16:1
Hit : 256

अमेरिका की चौधराहट का ज़माना बीत गया : बोलीविया

ट्रम्प फिर उस युग की वपसी का सपना संजोये हैं जो नामुमकिन है ।


विलायत पोर्टल :
  प्राप्त जानकारी के अनुसार बोलीविया के विदेशमंत्री फर्नांडो ममानी ने वेनेज़ुएला में सैन्य हस्तक्षेप की ट्रम्प की धमकी की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि अमेरिका की चौधराहट का ज़माना बीत गया है, ट्रम्प फिर उस युग की वपसी का सपना संजोये हैं जो नामुमकिन है । उन्होंने रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोफ़ से भेंट करने के बाद रशिया टुडे से बात करते हुए कहा कि वेनेज़ुएला के विरुद्ध हमे कोई भी आक्रमक कार्रवाई स्वीकार नहीं है अगर आप सहयोग की इच्छा रखते हैं तो दूसरों का सम्मान करना होगा । ज्ञात रहे कि वेनेज़ुएला मे अप्रैल से ही गतिरोध की स्थिति है, अमेरिका ने वेनेज़ुएला के विरुद्ध आक्रमक क़दम उठाते हुए देश के राष्ट्रपति सहित कई उच्चाधिकारियों को प्रतिबंधित लिस्ट में डाल दिया है । ट्रम्प ने वेनेज़ुएला के राष्ट्रपति को तानाशाह बताते हुए इस देश में सैन्य हस्तक्षेप की बात कही थी ।
 ...............
इसना


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हिज़्बुल्लाह से हार के बाद जीत का मुंह देखने को तरस गया इस्राईल : ज़ायोनी मंत्री शौहर क्या करे कि घर जन्नत की मिसाल हो इस्राईल दहशत में, जौलान हाइट्स पर युद्ध छेड़ सकता है हिज़्बुल्लाह अय्याश सऊदी युवराज का दिमाग़ी संतुलन सही नहीं : लिंडसे ग्राहम ईरान प्रतिरोध का केंद्र और फिलिस्तीन का सच्चा समर्थक : सूर उलमा एसोसिएशन डूबते नेतन्याहू को ईरान परमाणु समझौते का सहारा ? सऊदी तानाशाह ने बोली इस्राईल की भाषा, ईरान के मिसाइल और परमाणु कार्यक्रम को रोके विश्व समुदाय सऊदी अरब पर शिकंजा कसा, जर्मनी ने 18 सऊदी लोगों पर प्रतिबंध लगाया अफ़ग़ानिस्तान के अधिकांश भाग पर तालेबान का क़ब्ज़ा, अमेरिका ने हार मानी ख़ाशुक़जी हत्याकांड के केंद्र में आया "अंधेरों का राजकुमार " आले सऊद शांति चाहते हैं तो यमन जवाबी हमले रोकने को तैयार : अल हौसी आयतुल्लाह फ़ाज़िल लंकरानी र.ह. की ज़िंदगी पर एक निगाह इदलिब, दमिश्क़ ने आतंकी संगठनों के खिलाफ सैन्य अभियान शुरू किया सऊदी अरब के साथ अपने संबंधों पर फिर विचार करे अमेरिका : बर्नी सैंडर्स आंग सान सू ची के साथ बराक ओबामा से भी छीना जाए नोबेल शांति पुरस्कार