Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 189134
Date of publication : 21/8/2017 17:11
Hit : 385

हज यात्रा, मक्का में १५ मंज़िला ईमारत में लगी आग ।

आले सऊद की अक्षमता तथा कुप्रबंधन के कारण हर साल हज यात्रा में हज़ारों नागरिकों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है ।

विलायत पोर्टल :
  प्राप्त जानकारी के अनुसार सऊदी अरब के मक्का नगर में इस १५ मंज़िला ईमारत में ६०० से से अधिक हज यात्री ठहरे हुए थे । मक्का पुलिस के प्रवक्ता का कहना है कि आग पर काबू पाने के लिए इस बिल्डिंग में रह रहे ६०० हज यात्रियों को बाहर निकाल लिया गया है । इस बिल्डिंग में ठहरे हुए यात्री यमन और तुर्की के नागरिक थे । सऊदी सूत्रों के अनुसार इस घटना में कोई जानी नुकसान नहीं हुआ तथा समय रहते आग पर काबू पा लिया गया है । पुलिस के अनुसार इस ईमारत के आठवे फ्लोर पर स्थित एसी सिस्टम में गड़बड़ी के कारण यह आग लगी । ज्ञात रहे कि आले सऊद की अक्षमता तथा कुप्रबंधन के कारण हर साल हज यात्रा में हज़ारों नागरिकों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ता है ।
....................
अलआलम


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

बर्नी सैंडर्स की मांग, सऊदी तानाशाही की नकेल कसे विश्व समुदाय । ईरान विरोधी बैठकों से कुछ हासिल नहीं, यादगारी तस्वीरें लेते रहे नेतन्याहू । हसन नसरुल्लाह का लाइव इंटरव्यू होगा प्रसारित,सऊदी इस्राईली मीडिया की हवा निकली । आले ख़लीफ़ा का यूटर्न , कभी भी दमिश्क़ विरोधी नहीं था बहरैन इदलिब , नुस्राह फ्रंट के ठिकानों पर रूस की भीषण बमबारी । हश्दुश शअबी की कड़ी चेतावनी, आग से न खेले तल अवीव,इस्राईल की ईंट से ईंट बजा देंगे । दमिश्क़ पर फिर हमला, ईरानी हित थे निशाने पर, जौलान हाइट्स पर सीरिया ने की जवाबी कार्रवाई । नहीं सुधर रहा इस्राईल, दमिश्क़ के उपनगरों पर फिर किया हमला। अमेरिका में गहराता शटडाउन संकट, लोगों को बेचना पड़ रहा है घर का सामान । हसन नसरुल्लाह ने इस्राईली मीडिया को खिलौना बना दिया, हिज़्बुल्लाह की स्ट्रैटजी के आगे ज़ायोनी मीडिया फेल । रूस और ईरान के दुश्मन आईएसआईएस को मिटाना ग़लत क़दम होगा : ट्रम्प फ़िलिस्तीनी जनता के ख़ून से रंगे हैं हॉलीवुड सितारों के हाथ इदलिब और हलब में युद्ध की आहट, सीरियन टाइगर अपनी विशेष फोर्स के साथ मोर्चे पर पहुंचे । देश छोड़ कर भाग रहे हैं सऊदी नागरिक , शरण मांगने वालों के संख्या में 318% बढ़ोत्तरी । इराक सेना अलर्ट पर किसी भी समय सीरिया में छेड़ सकती है सैन्य अभियान ।