Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 190510
Date of publication : 18/11/2017 19:49
Hit : 433

पैग़म्बर स.अ. की निगाह में नैतिकता की अहमियत

अपने नफ़्स की तरबियत और अच्छा अख़लाक़ इस हद तक ज़रूरी है कि जो इंसान बुरे अख़लाक़ को अपने से दूर कर के अच्छे अख़लाक़ को अपनाए पैग़म्बर स.अ. ने उसे मुजाहिद कहा है


विलायत पोर्टल :  इंसानी जीवन से ग़ुस्से को कोई अलग नहीं कर सकता, और न ही हमारे जीवन में उसके महत्व का कोई इंकार कर सकता है, जैसे जब किसी के अधिकारों को कोई रौंदता है तो अगर उसके अंदर ग़ुस्सा न पाया जाए तो कैसे वह अपने अधिकार की रक्षा करेगा, लेकिन अगर इसी ग़ुस्से की लगाम अक़्ल के हाथ से छूट जाए तो यह ग़लत रास्ते का ओर चला जाएगा, और इंसान एक ऐसा भेड़िया बन कर रह जाएगा जिसकी दरिंदगी की कोई सीमा नहीं होगी, इसी कारण पैग़म्बर स.अ. और अहले बैत अ.स. ने नैतिकता और अच्छे अख़लाक़ पर बहुत ज़ोर दिया है, हम संक्षेप में यहां पर नैतिकता की अहमियत पर पैग़म्बर की कुछ हदीसें बयान कर रहे हैं। आप फ़रमाते हैं कि मैं नैतिकता और अच्छाईयों को उनकी अंतिम हद तक पहुंचाने के लिए भेजा गया हूं, यानी पैग़म्बर अपने जीवन और अपनी बेसत के महत्वपूर्ण लक्ष्य की ओर इशारा करते हुए कह रहे हैं कि मेरी सभी बातों में नैतिकता को प्राथमिकता हासिल है। इसी तरह आप फ़रमाते हैं कि ईमान के ऐतबार से सबसे कामिल इंसन वह है जो अख़लाक़ के ऐतबार से सबसे बेहतर हो, इस हदीस में भी अगर ध्यान दिया जाए तो बात साफ़ है कि ईमान कितना ही मज़बूत क्यों न हो लेकिन अच्छे अख़लाक़ के बिना उसकी कोई हक़ीक़त नहीं है। एक और जगह आप ने फ़रमाया, क़यामत के दिन उस मोमिन के आमाल का पलड़ा सबसे भारी होगा जिसका अख़लाक़ सबसे अच्छा होगा, इस हदीस से भी साफ़ ज़ाहिर है कि ईमान कितना ही अधिक क्यों न हो उसकी मज़बूती अच्छे अख़लाक़ ही से है। अच्छे अख़लाक़ की अहमियत को पैग़म्बर स.अ. ने एक और जगह इस प्रकार बयान किया है कि, तुम में से सबसे अच्छा वह है जिसका अख़लाक़ सबसे अच्छा सबसे अच्छा हो। इसी तरह किसी एक क़बीले के एक शख़्स ने रिवायत नक़्ल की है कि पैग़म्बर स.अ. से असहाब ने सवाल किया कि वह कौन सी सबसे अच्छी चीज़ है जो इंसान को दी गई है, आपने फ़रमाया, अल्लाह की ओर से अच्छा अख़लाक़ और नैतिकता है जो इंसान को दी जाने वाली चीज़ों में सबसे अच्छी चीज़ है। एक जगह हज़रत आएशा से रिवायत है कि मैंने पैग़म्बर स.अ. से सुना कि आपने फ़रमाया मोमिन इंसान अपनी नैतिकता और अच्छे अख़लाक़ से उस इंसान के दर्जे के बराबर पहुंच जाता है तो रातों में नमाज़ें और दिनों में रोज़े रखता है। मआज़ इब्ने जबल से रिवायत है कि पैग़म्बर स.अ. की ओर से मेरे लिए आख़िरी नसीहत जब मैं घोड़े पर बैठ रहा था यह थी कि लोगों से अच्छे अख़लाक़ और नेक बर्ताव से मिलो। पैग़म्बर स.अ. की इन हदीसों से यह बात अच्छी तरह साफ़ हो जाती है कि इस्लाम की निगाह में अच्छे अख़लाक़ का बहुत मर्तबा है, लेकिन अफ़सोस आज का वह मुसलमान जो अल्लाह की इबादत को अहमियत देता है वह भी इस्लामी अख़लाक़ से दूर है। कुछ लोगों की सोंच यह है कि सारे अहकाम पर अमल केवल उन्हीं लोगों के लिए ज़रूरी है जो कमाल और ऊंचाईयों तक पहुंचना चाहते हैं, और जहन्नम से बचने के लिए नमाज़ रोज़ा ही काफ़ी है, यह सोंच ग़लत है क्योंकि जिस तरह नमाज़ रोज़ा अल्लाह के अज़ाब से बचने का कारण है वैसे ही अच्छा अख़लाक़ अपनाना और बुरे अख़लाक़ से बचना भी अल्लाह के अज़ाब से बचने का मुख्य कारण है। अपने नफ़्स की तरबियत और अच्छा अख़लाक़ इस हद तक ज़रूरी है कि जो इंसान बुरे अख़लाक़ को अपने से दूर कर के अच्छे अख़लाक़ को अपनाए पैग़म्बर स.अ. ने उसे मुजाहिद कहा है, जब किसी जंग से वापसी के बाद किसी ने कहा कि या रसूलल्लाह स.अ. हम ने जंग जीत ली, आपने फ़रमाया था तुम अभी जिहादे असग़र करके वापस हुए हो जिहादे अकबर तो अभी बाक़ी है, पूछने वाले ने पूछा जिहादे अकबर क्या है, आपने फ़रमाया नफ़्स से जिहाद, जिहादे अकबर है, यानी नफ़्स को बुरे अख़लाक़ से बचा कर अच्छे अख़लाक़ की तरबियत देना।
.........................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

ईरानी हैकर्स ने अमेरिकी अधिकारियों के ईमेल हैक किए ! ईरान, रूस और चीन से युद्ध के लिए तैयार रहे ब्रिटेन : जनरल कार्टर हमास की ज़ायोनी अतिक्रमणकारियों को चेतावनी, हमारे देश से से निकल जाओ । पाकिस्तान में इतिहास का सबसे बड़ा निवेश करने वाला है सऊदी अरब नेतन्याहू की धमकी, अस्तित्व की जंग लड़ रहा इस्राईल अपनी रक्षा के लिए कुछ भी करेगा । वेनेज़ुएला के राष्ट्रपति का आरोप, उनकी हत्या की योजना बना रहा है अमेरिका । सऊदी अरब सहयोगी , लेकिन मोहम्मद बिन सलमान की लगाम कसना ज़रूरी : अमेरिकन सीनेटर्स झूट की फ़ैक्ट्री, वॉइस ऑफ अमेरिका की उर्दू और पश्तो सर्विस पर पाकिस्तान ने लगाई पाबंदी ईरान के नाम पर सीरिया को हमलों का निशाना बनाने की आज्ञा नहीं देंगे : रूस अमेरिकी हथियार भंडार के साथ बू कमाल में सामूहिक क़ब्र से 900 शव बरामद । विख्यात यहूदी अभिनेत्री नताली पोर्टमैन ने की अमेरिका यमन युद्ध के नाम पर सऊदी अरब से वसूली को तैयार सऊदी अरब का युवराज मोहम्मद बिन सलमान है जमाल ख़ाशुक़जी का हत्यारा : निक्की हैली अमेरिका में पढ़ने वाले ईरानी अधिकारियों के बच्चों को निकालेगा वाशिंगटन दमिश्क़ का ऐलान,अपना उपग्रह लांच करने के लिए तैयार है सीरिया ।