Wed - 2018 Oct 17
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 190617
Date of publication : 26/11/2017 18:2
Hit : 168

मिडिल ईस्ट के लिए खतरा है अवैध राष्ट्र इस्राईल : पूर्व डच प्रधानमंत्री

कोई फिलिस्तीन की हालत को नहीं देख रहा है तथा एक दशक से ज़ायोनी नाकाबंदी का शिकार ग़ज़्ज़ा पर विश्व समुदाय चुप्पी साधे हुए है 2006 में हुए आम चुनावों में हमास की जीत के बाद से ही अवैध राष्ट्र ने यहाँ की नाकाबंदी कर रखी है।


विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार हॉलैंड के पूर्व प्रधानमंत्री ड्रीस्स वान ईगैट का कहना है कि अवैध राष्ट्र इस्राईल मिडिल ईस्ट के लिए सबसे बड़ा खतरा है । वान ईगैट यूट्रेक्ट शहर फिलिस्तीन - इस्राईल मुद्दे पर आयोजित एक सम्मलेन मेभाग ले रहे थे । वान ईगैट ने कहा कि इस्राईल के पास परमाणु हथियारों का बड़ा भाग है तथा क्षेत्रीय देशों में उसे एक गंभीर खतरे के रूप में देख जाता है, लेकिन खेद की बात है कि हॉलैंड समेत समस्त विश्व जगत इस बात पर आँखे मूंदे हुए है । वान ईगैट ने कहा कि कोई फिलिस्तीन की हालत को नहीं देख रहा है तथा एक दशक से ज़ायोनी नाकाबंदी का शिकार ग़ज़्ज़ा पर विश्व समुदाय चुप्पी साधे हुए है 2006 में हुए आम चुनावों में हमास की जीत के बाद से ही अवैध राष्ट्र ने यहाँ की नाकाबंदी कर रखी है।
.............................
अलआलम


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :