Wed - 2018 Oct 17
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 191417
Date of publication : 8/1/2018 18:44
Hit : 534

शैख़ ज़कज़की की रिहाई के लिए शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस ने बरसाई गोलियां , कई शहीद

नाइजीरिया अदालत के आदेश के बावजूद भी उन्हें अब तक आज़ाद नहीं किया गया है, न ही उनको चिकित्सीय सुविधा पहुंचाई जा रही है जिस पर सरकार पहले सहमति जता चुकी थी लेकिन अब तक उनके स्वास्थ्य लाभ को लेकर कोई क़दम नहीं उठाया गया है, जिस को लेकर कल देश के कई शहरों में होने वाले प्रदर्शन को नाइजीरिया सरकार ने बल पूर्वक कुचलते हुए प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलवायीं जिस में अब तक 3-4 लोग शहीद हो चुके हैं ।


विलायत पोर्टल :  प्राप्त जानकारी के अनुसार नाइजीरिया के लोकप्रिय नेता तथा वरिष्ठ धर्मगुरु शैख़ इब्राहीम ज़कज़की की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें यथाशीघ्र उपचार तथा उनकी रिहाई की मांग को लेकर शान्तिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगों पर नाइजीरिया पुलिस ने बर्बर कार्रवाई करते हुए कई प्रदर्शनकारियों को शहीद कर दिया है । ग़ैर क़ानूनी रूप से नाइजीरिया सरकार की जेल में बंद लोकप्रिय नेता की हालत बहुत गंभीर है, वह सही प्रकार से बोल पाने में भी सक्षम नहीं हैं तथा उनके जिस्म के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया है, वह ठीक प्रकार से नमाज़ भी नहीं पढ़ पा रहे हैं , उनसे मुलाक़ात कर चुके एक चिकित्स्क के अनुसार ऐसा प्रतीत होता है कि शैख़ ज़कज़की को ब्रेन हैमरेज हो गया है । नाइजीरिया अदालत के आदेश के बावजूद भी उन्हें अब तक आज़ाद नहीं किया गया है, न ही उनको चिकित्सीय सुविधा पहुंचाई जा रही है जिस पर सरकार पहले सहमति जता चुकी थी लेकिन अब तक उनके स्वास्थ्य लाभ को लेकर कोई क़दम नहीं उठाया गया है, जिस को लेकर कल देश के कई शहरों में होने वाले प्रदर्शन को नाइजीरिया सरकार ने बल पूर्वक कुचलते हुए प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलवायीं जिस में अब तक 3-4 लोग शहीद हो चुके हैं ।

सूत्रों के अनुसार आज भी नाइजीरिया के कई महत्वपूर्ण शहरों में शैख़ ज़कज़की की रिहाई तथा उन्हें उपचार उपलब्ध कराने की मांग करते हुए प्रदर्शन किये गए जिसे एक बार फिर सरकार ने बल पूर्वक कुचलते हुए 2 लोगों को शहीद कर दिया तथा कई अन्य घायल हो गए, काडोना शहर में हुए प्रदर्शन में सम्मिलित एक छात्र भी पुलिस की गोलियों से शहीद हो गया है ।

सूत्रों के अनुसार पुलिस बल ने शैख़ ज़कज़की के मूल शहर ज़ारिया में भी लोगों पर बल प्रयोग किया संतोष की बात यह रही कि पुलिस बल ने यहाँ पर प्रदर्शनकारियों पर गोली नहीं चलायी ।
.......................
अलआलम


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :