Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 192046
Date of publication : 13/2/2018 16:49
Hit : 190

सऊदी दरबार के भ्रष्टाचार पर टिप्पणी करना पड़ा महंगा, सऊदी पत्रकार को 5 साल की जेल ।

प्रख्यात पत्रकार सालेह अल शैही को सऊदी राजदरबार पर टिप्पणी करने के आरोप में लम्बी अवधि तक हिरासत में रखने के बाद 5 साल जेल की सजा सुनाई है, सालेह को जेल से रिहा होने के बाद अगले 5 साल तक देश से बाहर जाने की भी आज्ञा नहीं होगी ।
विलायत पोर्टल :  सऊदी अरब की आपराधिक मामलों की अदालत ने सऊदी अरब के प्रख्यात पत्रकार सालेह अल शैही को सऊदी राजदरबार पर टिप्पणी करने के आरोप में लम्बी अवधि तक हिरासत में रखने के बाद 5 साल जेल की सजा सुनाई है, सालेह को जेल से रिहा होने के बाद अगले 5 साल तक देश से बाहर जाने की भी आज्ञा नहीं होगी । सूत्रों के अनुसार सालेह ने एक टीवी प्रोग्राम में देश मे फैले भ्रष्टाचार पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि सऊदी संस्थानों विशेष कर राजदरबार में भ्रष्टाचार फैला हुआ है, उन्होंने भ्रष्टाचार में लिप्त उच्च सरकारी पदों पर आसीन लोगों पर कार्रवाई की मांग की थी । ज्ञात रहे कि सऊदी अरब में सऊदी राज परिवार पर टिप्पणी करना क़ानूनी अपराध है तथा टिप्पणी करने वालों को कड़ी सजा के साथ साथ मृत्यु दंड तक का भी प्रावधान है ।
............................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

ईरान के पयाम सैटेलाइट ने इस्राईल और अमेरिका को नई चिंता में डाला सीरिया की स्थिरता और सुरक्षा, इराक की सुरक्षा का हिस्सा : बग़दाद आले सऊद की नई करतूत , सऊदी अरब में खुले नाइट कलब और कैसीनो । अमेरिका ने सीरिया से भाग कर ईरान, रूस और बश्शार असद को शक्तिशाली किया । ज़ुबान के इस्तेमाल के फ़ायदे और नुक़सान । सीरिया के विभाजन की साज़िश नाकाम, अमेरिका ने कुर्दों को दिया धोखा । सीरिया में अमेरिका का स्थान लेंगी मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात की सेना । बैतुल मुक़द्दस से उठने वाली अज़ान की आवाज़ पर लगेगी पाबंदी । दमिश्क़ की ओर पलट रहे हैं अरब देश, इस्राईल हारा हुआ जुआरी : ज़ायोनी टीवी शहीद बाक़िर अल निम्र, वह शेर मर्द जिसका नाम सुनकर आज भी लरज़ जाते हैं आले सऊद बश्शार असद की हत्या ज़ायोनी चीफ ऑफ स्टाफ की पहली प्राथमिकता ? यमन के सक़तरी द्वीप पर संयुक्त अरब अमीरात की नज़र क़तर के पूर्व नेता का सवाल, सऊदी अरब में कोई बुद्धिमान है जो सोच विचार कर सके ? अंसारुल्लाह का आरोप , यमन के लिए दूषित भोजन खरीद रहा है डब्ल्यू.एच.पी भारत ने दी ईरान को बड़ी राहत, तेल के लिए रुपये से पेमेंट के बाद अब टैक्स में भी छूट