Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 193287
Date of publication : 20/4/2018 12:21
Hit : 458

हज़रत अब्बास अ.स. मासूमीन अ.स. की निगाह में

एक दिन इमाम सज्जाद अ.स. की निगाह आपके बेटे उबैदुल्लाह पर पड़ी उनकी आंखों से आंसू बहने लगे और फ़रमाया कि ख़ुदा मेरे चचा अब्बास अ.स. पर रहमत नाज़िल करे जिन्होंने वफ़ादारी और क़ुर्बानी की मिसाल पेश करते हुए ख़ुद को अपने भाई पर क़ुर्बान कर दिया, और शहादत से पहले दीन और वक़्त के इमाम अ.स. को बचाने के लिए दीन के दुश्मनों द्वारा उनके हाथ भी कट चुके थे


विलायत पोर्टल :  इतिहास में जब भी कभी वफ़ादारी और इमाम अ.स. की इताअत की बात होती है वहां हज़रत अब्बास अ.स. का नाम सुनहरे शब्दों से लिखा दिखाई देता है, आपकी शख़्सियत के बारे में अलग अलग ज़बानों में अनेक किताबें लिखी जा चुकी हैं लेकिन आप की शख़्सियत को मासूम इमाम अ.स. ने सबसे बेहतरीन तरह से बयान किया है, इस लेख में हम हज़रत अब्बास अ.स. की शख़्सियत को मासूमीन की हदीस की रौशनी में बयान करेंगे।
हज़रत ज़हरा स.अ. की निगाह में
हज़रत ज़हरा स.अ. फ़रमाती हैं कि क़यामत के दिन पैग़म्बर स.अ. इमाम अली अ.स. को बुला कर कहेंगे जा कर मेरी बेटी फ़ातिमा स.अ. से कह दो आज के इस अज़ीम दिन में मोमेनीन की शफ़ाअत के लिए जो इंतेज़ाम किया है उसे ले कर आएं। इमाम अली अ.स. हज़रत ज़हरा स.अ. के पास आएगें ऐ फ़ातिमा आज के दिन मोमेनीन की शफ़ाअत के लिए क्या इंतेज़ाम किया है? आपने फ़रमायेंगी मेरे बेटे अब्बास के कटे हुए यह दोनों हाथ शफ़ाअत के लिए काफ़ी है।
इस रिवायत से हज़रत अब्बास अ.स. की फ़ज़ीलत निखर के सामने आती है और वह इस तरह कि आपने अल्लाह की इताअत और दीन की मदद के लिए ख़ुद को ऐसा वक़्फ़ किया कि उसके नतीजे में अल्लाह उसके रसूल स.अ. और अहलेबैत अ.स. की निगाह में आपको यह मक़ाम हासिल हुआ।
इमाम सज्जाद अ.स. की निगाह में
रिवायत में है कि एक दिन इमाम सज्जाद अ.स. की निगाह आपके बेटे उबैदुल्लाह पर पड़ी उनकी आंखों से आंसू बहने लगे और फ़रमाया कि ख़ुदा मेरे चचा अब्बास अ.स. पर रहमत नाज़िल करे जिन्होंने वफ़ादारी और क़ुर्बानी की मिसाल पेश करते हुए ख़ुद को अपने भाई पर क़ुर्बान कर दिया, और शहादत से पहले दीन और वक़्त के इमाम अ.स. को बचाने के लिए दीन के दुश्मनों द्वारा उनके हाथ भी कट चुके थे, अल्लाह ने आपकी इसी वफ़ादारी और क़ुर्बानी को देखते हुए उनके चचा जाफ़र तैयार की तरह उन्हें दो पर दिए हैं ताकि उन परों की मदद से फ़रिश्तों के साथ जन्नत में परवाज़ कर सकें, बेशक आपके लिए अल्लाह ने जन्नत में ऐसा मर्तबा रखा है जिस पर क़यामत में सारे शहीद यही कहेंगे कि काश यह मर्तबा हमें भी मिला होता। इमाम सज्जाद अ.स. जिन्होंने आपकी बहादुरी, वफ़ादारी और क़ुर्बानी को अपनी आंखों से देखा है वही आप पर रहमत नाज़िल होने की दुआ कर रहे हैं और आख़ेरत में जो उनका मक़ाम है उसे बयान कर रहे हैं, ऐसा मक़ाम जिसे देख सारे शहीद कहेंगे कि काश मेरा भी यही मक़ाम होता, आपकी इसी अज़मत और फ़ज़ीलत की वजह से इमाम सज्जाद अ.स. ने आपके जनाज़े को अपने हाथों से दफ़्न किया।
इमाम सादिक़ अ.स. की निगाह में
इमाम सादिक़ अ.स. की वह शख़्सियत है जिसके आगे बड़े बड़े अहले सुन्नत के इमामों और उलमा ने भी ख़ुद को उनका शागिर्द होने पर गर्व किया है, वह हज़रत अब्बास अ.स. की ज़िंदगी की कुछ अहम सिफ़ात को इस तरह बयान करते हैं...... मेरे चचा अब्बास अ.स. की शख़्सियत में कुछ अहम बातें इस तरह हैं, 1- मज़बूत अंतरदृष्टि 2- मज़बूत ईमान 3- इमाम हुसैन अ.स. की मदद 4- वफ़ादारी और क़ुर्बानी 5- इमामत को बचाने की राह में शहादत
इमाम ज़माना अ.स. की निगाह मे
 इमाम ज़माना अ.स. आपकी शख़्सियत के बारे में फ़रमाते हैं सलाम हो इमाम अली अ.स. के बेटे अबुल फ़ज़्ल पर जिन्होंने अपने भाई को बचाने के लिए अपनी जान क़ुर्बान कर दी थी और दुनिया को आख़ेरत की कामयाबी का ज़रिया बनाया, जो ऐसे सक़्क़ा थे जिन्होंने आख़िरी सांस तक प्यासे बच्चों तक पानी पहुंचाने की कोशिश की, जिनके दोनों हाथ अल्लाह की राह में काट दिए गए।
 ...................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

इमाम हसन असकरी अ.स. की ज़िंदगी पर एक निगाह अमेरिका का युग बीत गया, पश्चिम एशिया से विदाई की तैयारी कर ले : मेजर जनरल मूसवी सऊदी अरब ने यमन के आगे घुटने टेके, हुदैदाह पर हमले रोकने की घोषणा। ईरान को दमिश्क़ से निकालने के लिए रूस को मनाने का प्रयास करेंगे : अमेरिका आईएसआईएस आतंकियों का क़ब्रिस्तान बना पूर्वी दमिश्क़ का रेगिस्तान,30 आतंकी हलाक ग़ज़्ज़ा, प्रतिरोधी दलों ने ट्रम्प की सेंचुरी डील की हवा निकाली : हिज़्बुल्लाह सऊदी ने स्वीकारी ख़ाशुक़जी को टुकड़े टुकड़े करने की बात । आईएसआईएस समर्थक अमेरिकी गठबंधन ने दैरुज़्ज़ोर पर प्रतिबंधित क्लिस्टर्स बम बरसाए । अवैध राष्ट्र में हलचल, लिबरमैन के बाद आप्रवासी मामलों की मंत्री ने दिया इस्तीफ़ा फ़्रांस और अमेरिका की ज़ुबानी जंग तेज़, ग़ुलाम नहीं हैं हम, सभ्यता से पेश आएं ट्रम्प : मैक्रोन बीवी क्या करे कि घर जन्नत की मिसाल हो ज़ायोनी युद्ध मंत्री लिबरमैन का इस्तीफ़ा, ग़ज़्ज़ा की राजनैतिक जीत : हमास अमेरिका की चीन को धमकी, हमारी मांगे नहीं मानी तो शीत युद्ध के लिए रहो तैयार देश को मुश्किलों से उभारना है तो राष्ट्रीय क्षमताओं का सही उपयोग करना होगा : आयतुल्लाह ख़ामेनई अय्याश सऊदी युवराज मोहम्मद बिन सलमान है ग़ज़्ज़ा पर वहशियाना हमलों का मास्टर माइंड : मिडिल ईस्ट आई