Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 193350
Date of publication : 22/4/2018 8:21
Hit : 402

सीरियन सेना को S-300 मिली तो इस्राईल और अमेरिका का क्या होगा ?

सीरिया ने अपराजय समझी जाने वाले इस्राईली सेना के होश ठिकाने लगाते हुए इस मिथक की धज्जियाँ बखेर कर रख दी हैं । सीरिया ने 1973 के मिसाइल सिस्टम की सहायता से विश्व की महाशक्ति समझे जाने वाले अमेरिका , ब्रिटेन और फ़्रांस की आधुनिक मिसाइलों को हवा में ही मार गिराया, ऐसी अवस्था में साफ़ है कि अगर सीरियन सेना के पास रूस का यह आधुनिक सिस्टम पहुँचता है तो सीरियन सेना की ताक़त कई गुना बढ़ जाएगी ।
विलायत पोर्टल :  प्राप्त जानकारी के अनुसार सीरिया पर अमेरिका , ब्रिटेन और फ़्रांस के असफल सैन्य आक्रमण के बाद सीरिया को रूस की ओर से S-300 दिए जाने की घोषणा और तिरतूस तक इस मिसाइल सिस्टम के पहुँचने के अटकलों के बीच इस बात पर चर्चा हो रही है कि अगर सीरिया के पास यह सिस्टम पहुँच गया तो इस्राईल का क्या होगा । यह बात स्पष्ट है कि सीरिया ने अपराजय समझी जाने वाले इस्राईली सेना के होश ठिकाने लगाते हुए इस मिथक की धज्जियाँ बखेर कर रख दी हैं । सीरिया ने 1973 के मिसाइल सिस्टम की सहायता से विश्व की महाशक्ति समझे जाने वाले अमेरिका , ब्रिटेन और फ़्रांस की आधुनिक मिसाइलों को हवा में ही मार गिराया, ऐसी अवस्था में साफ़ है कि अगर सीरियन सेना के पास रूस का यह आधुनिक सिस्टम पहुँचता है तो सीरियन सेना की ताक़त कई गुना बढ़ जाएगी । यह बात भी साफ़ है कि युद्ध क्षेत्र में जो वायु क्षेत्र की रक्षा करने में सक्षम हो और जिसका वायु सीमा पर कंट्रोल हो वही युद्ध का विजेता होता है ऐसी अवस्था में लम्बे समय से युद्ध की आग में तप कर कुंदन बन चुकी सीरियन सेना अगर रूस निर्मित S-300 जैसे आधुनिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम को पाने में सफल रहती है तो यह अमेरिका और उसके सहयोगियों के किसी डरावने ख़्वाब के पूरा होने जैसा होगा ।
.............................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

अय्याश सऊदी युवराज बिन सलमान ने माँ के बाद अब अपने भाई को बंदी बनाया। क़ासिम सुलेमानी के आदेश पर सीरिया ने इस्राईल पर मिसाइल दाग़े : ज़ायोनी मीडिया यूरोपीय यूनियन के ख़िलाफ़ बश्शार असद का बड़ा क़दम, राजनयिकों का विशेष वीज़ा किया रद्द। अमेरिकी सेना ने माना, इराक युद्ध का एकमात्र विजेता है ईरान । बर्नी सैंडर्स की मांग, सऊदी तानाशाही की नकेल कसे विश्व समुदाय । ईरान विरोधी बैठकों से कुछ हासिल नहीं, यादगारी तस्वीरें लेते रहे नेतन्याहू । हसन नसरुल्लाह का लाइव इंटरव्यू होगा प्रसारित,सऊदी इस्राईली मीडिया की हवा निकली । आले ख़लीफ़ा का यूटर्न , कभी भी दमिश्क़ विरोधी नहीं था बहरैन इदलिब , नुस्राह फ्रंट के ठिकानों पर रूस की भीषण बमबारी । हश्दुश शअबी की कड़ी चेतावनी, आग से न खेले तल अवीव,इस्राईल की ईंट से ईंट बजा देंगे । दमिश्क़ पर फिर हमला, ईरानी हित थे निशाने पर, जौलान हाइट्स पर सीरिया ने की जवाबी कार्रवाई । नहीं सुधर रहा इस्राईल, दमिश्क़ के उपनगरों पर फिर किया हमला। अमेरिका में गहराता शटडाउन संकट, लोगों को बेचना पड़ रहा है घर का सामान । हसन नसरुल्लाह ने इस्राईली मीडिया को खिलौना बना दिया, हिज़्बुल्लाह की स्ट्रैटजी के आगे ज़ायोनी मीडिया फेल । रूस और ईरान के दुश्मन आईएसआईएस को मिटाना ग़लत क़दम होगा : ट्रम्प