Thursday - 2018 Sep 20
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 194418
Date of publication : 5/7/2018 14:55
Hit : 1751

ईरान ने हुर्मुज़ जलडमरू मार्ग बंद किया तो तेल कीमतों में लगेगी आग, बाजार तक नहीं आ सकेगा खाड़ी देशों का तेल ।

क़तर और कुवैत का 100% जबकि अमीरात का 99% तो इराक का 98% और सऊदी अरब का 88% तेल इसी मार्ग से विश्व बाजार तक पहुँचता है, यही नहीं खाड़ी देशों का 50% सामान भी हुर्मुज़ जलडमरू से होकर ही गुज़रता है ।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकरी के अनुसार एक ओर जहाँ अमेरिका विश्व जगत पर ईरान से तेल कारोबार ख़त्म करने का दबाव बना रहा है वहीँ ईरान ने अमेरिका समेत साम्राज्यवादी शक्तियों को चेता दिया है कि अगर ईरान के तेल व्यापर पर अंकुश लगाया गया तो वह अपने अधीनस्थ हुर्मुज़ जलडमरू मार्ग को पूर्णरूप से बंद कर देगा जहाँ से विश्व जगत की ज़रूरतों की पूर्ति का 40% तेल गुज़रता है । अर्थशास्त्रियों का मानना है कि अगर ईरान यह क़दम उठता है तो तेल की कीमतों में आग लग जाएगी और प्रत्येक बैरल तेल की क़ीमत 250 डॉलर तक हो सकती है । याद रहे कि क़तर और कुवैत का 100% जबकि अमीरात का 99% तो इराक का 98% और सऊदी अरब का 88% तेल इसी मार्ग से विश्व बाजार तक पहुँचता है, यही नहीं खाड़ी देशों का 50% सामान भी हुर्मुज़ जलडमरू से होकर ही गुज़रता है । ईरान ने अगर अमेरिका की दादागिरी के जवाब में यह क़दम उठा लिया तो विश्व समुदाय को एक बड़े संकट का सामना करना पड़ेगा विश्व जगत इस अवस्था में प्रतिदिन 20 मिलियन बैरल तेल की कमी का सामना करने के लिए विवश होगा जो विश्व स्तर पर हाहाकार मचाने के लिए काफी है ।
.................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :