Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 194460
Date of publication : 10/7/2018 13:48
Hit : 902

भारत की अमेरिका को दो टूक, ईरान से तेल खरीदना रखेंगे जारी ।

भारत के पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि भारत ईरान से तेल की ख़रीद का फ़ैसला किसी के दबाव या किसी से प्रभावित होकर नहीं करेगा, बल्कि अपने राष्ट्रीय हितों के आधार पर निर्णय लेगा।

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत सरकार ने ईरान के तेल निर्यात को शून्य स्तर पर ले जाने की अमेरिकी मंशा पर पानी फेरते हुए साफ़ कहा है कि हम अपने हितों को देखते हुए फैसला लेंगे हमारे लिए देश हित सर्वोपरि है अमेरिकी हित नहीं । प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत के पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि भारत ईरान से तेल की ख़रीद का फ़ैसला किसी के दबाव या किसी से प्रभावित होकर नहीं करेगा, बल्कि अपने राष्ट्रीय हितों के आधार पर निर्णय लेगा। धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि भारत ईरान के ख़िलाफ़ अमेरिकी प्रतिबंधों को एक चुनौती के रूप में देखता है क्योंकि ईरान के साथ नई दिल्ली के रणनीतिक संबंध हैं। उल्लेखनीय है कि अमेरिका ने 4 नवंबर तक ईरान के तेल आयात को शून्य स्तर पर लाने की बात कही है और इस संबंध में अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने भारत और चीन सहित दुनिया भर के देशों को धमकी भी दे डाली है कि अगर किसी ने ईरान से तेल ख़रीदा तो वाशिंगटन उसके ख़िलाफ़ कार्यवाही करेगा। मोदी सरकार के केंद्रीय पैट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ईरान के साथ भारत के ऐतिहासिक और सांस्कृतिक संबंधों का उल्लेख करते हुए कहा कि भारत के आर्थिक हित, क्षेत्रीय देशों, विशेषकर इस्लामी गणतंत्र ईरान के साथ जुड़े हुए हैं और भारत सरकार ईरान से तेल की ख़रीद को लेकर एक व्यापक रणनीति तैयार कर रही है। भारतीय पैट्रोलियम मंत्री ने यह बयान ऐसे समय में दिया है जब एक अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल अगले सप्ताह भारत का दौरा करने वाला है जो भारतीय अधिकारियों को इस बात पर राज़ी करने की कोशिश करेगा कि वह ईरान से तेल आयात को बंद कर दे। ज्ञात रहे कि इससे पहले, भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने स्पष्ट कर दिया था कि उनका देश, ईरान के ख़िलाफ़ केवल संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों को स्वीकार करता है तथा नई दिल्ली को अमेरिकी प्रतिबंधों की परवाह नहीं है।
........................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

बीवी क्या करे कि घर जन्नत की मिसाल हो ज़ायोनी युद्ध मंत्री लिबरमैन का इस्तीफ़ा, ग़ज़्ज़ा की राजनैतिक जीत : हमास अमेरिका की चीन को धमकी, हमारी मांगे नहीं मानी तो शीत युद्ध के लिए रहो तैयार देश को मुश्किलों से उभारना है तो राष्ट्रीय क्षमताओं का सही उपयोग करना होगा : आयतुल्लाह ख़ामेनई अय्याश सऊदी युवराज मोहम्मद बिन सलमान है ग़ज़्ज़ा पर वहशियाना हमलों का मास्टर माइंड : मिडिल ईस्ट आई आईएसआईएस के चंगुल से छुड़ाए गए लोगों से मिले राष्ट्रपति बश्शार असद ग़ज़्ज़ा में हार से निराश इस्राईल के युद्ध मंत्री ने दिया इस्तीफ़ा ज़ायोनी मीडिया ने माना, तल अवीव हार गया, हमास अपने उद्देश्यों में सफल क़तर का बड़ा क़दम, ईरान और दमिश्क़ समेत 5 देशों का गठबंधन बनाने की पेशकश एमनेस्टी इंटरनेशनल ने आंग सान सू ची से सर्वोच्च सम्मान वापस लिया ईरान की सैन्य क्षमता को रोकने में असफल रहेंगे अमेरिकी प्रतिबंध : एडमिरल हुसैन ख़ानज़ादी फिलिस्तीन, ज़ायोनी हमलों में 15 शहीद, 30 से अधिक घायल ग़ज़्ज़ा में हार से बौखलाए ज़ायोनी राष्ट्र ने हिज़्बुल्लाह को दी हमले की धमकी आले सऊद ने अब ट्यूनेशिया में स्थित सऊदी दूतावास में पत्रकार को बंदी बनाया मैक्रॉन पर ट्रम्प का कड़ा कटाक्ष, हम न होते तो पेरिस में जर्मनी सीखते फ़्रांस वासी