नवीनतम लेख

जमाल ख़ाशुक़जी हत्याकांड पर दबाव बढ़ा तो ट्रम्प के लिए संकट खड़ा कर सकता है बिन सलमान ! ज़ायरीन को निशाना बनाने के लिए महिलाओं की वेशभूषा में आए संदिग्ध गिरफ्तार ट्रम्प की ईरान विरोधी नीतियों ने सऊदी अरब को दुस्साहस दिया, सऊदी राजदूतों को देश निकाला दिया जाए । कर्बला से ज़ुल्म के ख़िलाफ़ डट कर मुक़ाबले की सीख मिलती है... अफ़ग़ान युद्ध की दलदल से निकलने के लिए हाथ पैर मार रहा है अमेरिका : वीकली स्टैंडर्ड ईरान में घुसपैठ करने की हसरत पर फिर पानी, आईएसआईएस पर सेना का कड़ा प्रहार ईरान से तेल आयात जारी रखेगा श्रीलंका, भारत की सहायता से अमेरिकी प्रतिबंधों से छूट पाने में जुटा ड्रामा बंद करे आले सऊद, ट्रम्प और जॉर्ड किश्नर को खरीदा होगा अमेरिका को नहीं : टेड लियू ज़ायोनी सैनिकों ने किया क़ुद्स के गवर्नर का अपहरण ट्रम्प ने दी बिन सलमान को क्लीन चिट, हथियार डील नहीं होगी रद्द रूस के कड़े तेवर, एकध्रुवीय दुनिया का सपना देखना छोड़ दे अमेरिका आले सऊद ने अमेरिका के आदेश पर ख़ाशुक़जी के क़त्ल की बात स्वीकारी : मुजतहिद एक पत्रकार की हत्या पर आसमान सर पर उठाने वाला पश्चिमी जगत और अमेरिका यमन पर चुप क्यों ? जमाल ख़ाशुक़जी हत्याकांड में ट्रम्प के दामाद की भूमिका की जांच हो साम्राज्यवाद के मुक़ाबले पर डटा ईरान और ग़ुलामी करते मुस्लिम देशों में ज़मीन आसमान का फ़र्क़ : फहवी हुसैन
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 195728
Date of publication : 11/10/2018 16:4
Hit : 472

सीरिया को बर्बाद करने वाले आईएसआईएस आतंकी बने इस्राईल के गले की हड्डी

इस्राईल में प्रकाशित एक रिपोर्ट में बताया गया है कि उत्तरी क्षेत्रों के अस्पतालों में सन 2013 से इन आतंकियों का इलाज शुरु किया गया और धीरे धीरे इस्राईल की ओर से यह इलाज, सब से बड़ा ” मानवीय ” अभियान बन गया। इस्राईली टीवी ने बताया कि इस्राईल ने लगभग 3525 घायलों का इलाज किया और इन सब का इलाज उत्तरी क्षेत्र के चार सरकारी अस्पतालों में किया गया

विलायत पोर्टल : प्राप्त जानकारी के अनुसार सीरिया में युद्ध की आग भड़काने में अहम् भूमिका निभाने वाले तथा वहाबी आतंकी संगठनों के घायल हत्यारों को इस्राईल मुफ्त इलाज और चिकित्सीय सुविधा पहुँचाने वाला इस्राईल सीरिया में आतंकियों के सफाये के बाद अब एक और उलझन में पड़ गया है और यह उलझन है हज़ारों की संख्या में वह क्रूर आतंकी जिन्हे इस्राईल में इलाज के लिए लाया गया था । यह वह आतंकवादी हैं जिन्हें घायल होने के बाद इस्राईल पहुंचाया गया है और वहां उनका इलाज चल रहा है। यह सब लोग उत्तरी इस्राईल के अस्पतालों में भर्ती हैं मगर सवाल यह है कि इस्राईल उनका क्या करे? क्या उन्हें वह वापस सीरिया भेज सकता है? हरगिज़ नहीं! इस लिए अब वह इन लोगों की वापसी के लिए दूसरे देशों से बात-चीत कर रहा है। इस्राईल ने सीरिया में घायल होने वाले हज़ारों आतंकवादियों को उत्तरी क्षेत्रों के अस्पतालों में इलाज कराया मगर अब जबकि सीरिया से आतंकवादियों का सफाया हो चुका है, और उनके समर्थक भी मैदान छोड़ चुके हैं, सवाल यह है कि इस्राईल उन्हें कहां भेजे और अस्पतालों का बिल कौन अदा करे? इस संदर्भ में इसाईली जनरल और संसद में विदेश एवं सुरक्षा आयोग के सदस्य एयाल रूओफीन ने एक इंटरव्यू में कहा है कि ” संभव है इन आतंकियों को वापस दमिश्क़ भेज दिया जाए और इसके लिए सीरिया के संबंधित अधिकारियों से परोक्ष रूप से वार्ता भी की जाए और सरकार से इन घायलों की सुरक्षा की गारंटी ली जाए यह भी संभव है कि इस्राईल औपचारिक रूप से संयुक्त राष्ट्र से यह अपील करे कि वह कुछ देशों को इस बात पर तैयार करे कि वह इस्राईल से इन घायलों में अपने वहां बुला लें जैसा कि व्हाइट हेल्मेट्स संगठन की आड़ में छुपे आतंकियों के बारे में हुआ है। इस्राईल में प्रकाशित एक रिपोर्ट में बताया गया है कि उत्तरी क्षेत्रों के अस्पतालों में सन 2013 से इन आतंकियों का इलाज शुरु किया गया और धीरे धीरे इस्राईल की ओर से यह इलाज, सब से बड़ा ” मानवीय ” अभियान बन गया। इस्राईली टीवी ने बताया कि इस्राईल ने लगभग 3525 घायलों का इलाज किया और इन सब का इलाज उत्तरी क्षेत्र के चार सरकारी अस्पतालों में किया गया। जबकि हैफा के रमबाम अस्पताल में 186, सफद के ज़ीफ अस्पताल में 806 और तबरिया के बूरिया अस्पताल में 181 घायल आतंकियों का इलाज किया गया। इस्राईल ने बश्शार असद की सरकार गिराने और सीरिया को बर्बाद करने का भरपूर प्रयास किया और आतंकियों को सैन्य , चिकित्सीय एवं आर्थिक हर प्रकार से सहायता की लेकिन सीरिया में साम्राज्यवाद की हार के साथ ही हज़ारों की संख्या में इस्राईल के अस्पतालों में मौजूद यह आतंकी अवैध राष्ट्र के गले की हड्डी बन गए हैं तथा ज़ायोनी राष्ट्र को समझ नहीं आ रहा है कि अब वह इनका क्या करे?
.........................


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :