Wed - 2018 Oct 17
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 61787
Date of publication : 28/10/2014 0:20
Hit : 514

उत्तरी लेबनान में तकफ़ीरी आतंकवादियों और सेना में घमासान की लड़ाई।

लेबनान के विदेशमंत्री जिब्रान बासिल ने अपने एक बयान में कहा है कि अमेरिका के नेतृत्व में गठित दाइश विरोधी गठबंधन इराक़ और सीरिया में अपने मिशन में नाकाम हो गया है।


विलायत पोर्टलः रिपोर्ट के अनुसार लेबनान के विदेशमंत्री जिब्रान बासिल ने अपने एक बयान में कहा है कि अमेरिका के नेतृत्व में गठित दाइश विरोधी गठबंधन इराक़ और सीरिया में अपने मिशन में नाकाम हो गया है। उन्होंने कहा कि यह गठबंधन उक्त देशों में दाइश की प्रगति नहीं रोक सका है जो उसकी कमज़ोरी की निशानी है।

जिब्रान बासिल ने यह बयान देश की उत्तरी सीमा के पास स्थित ईसाई आबादी वाले इलाक़ों के दौरे के अवसर पर दिया है जहां उन्होंने स्थानीय आबादी के नेताओं और सरकारी अधिकारियों से मुलाक़ातें की हैं।

उन्होंने कहा कि ईसाई आबादी सहित देश के सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले सभी नागरिकों के उन प्रयासों को सराहा जो वो तकफ़ीरी आतंकवादियों के संभावित हमलों को रोकने के उद्देश्य से अंजाम दे रहे हैं।

लेबनान के विदेश मंत्री ने स्पष्ट किया कि लेबनान की जनता ने एक बार फिर दुनिया वालों को बताया है कि वह जब तक एकजुट हैं तब तक दुनिया की कोई भी ताकत उन्हें हरा नहीं सकती है।

दूसरी ओर सूचना हैं कि उत्तरी लेबनान के शहर त्रिपोली के उपनगरीय इलाक़ो बखीन और अलमीनह में लेबनानी सेना और तकफ़ीरी आतंकवादियों के बीच झड़पें बदस्तूर जारी हैं।

अस्पताल के सूत्रों का कहना है कि त्रिपोली के उपनगरीय इलाक़ो बखीन और अलमीनह में शुक्रवार से जारी तकफ़ीरी आतंकवादियों के हमले में दस से अधिक सैनिक और कई नागरिक मारे गये और सौ से ज़्यादा घायल हुए हैं।

इसी बीच लेबनान के कट्टरपंथी तकफ़ीरी मुल्लाओं और चौदह मार्च नामक राजनीतिक पार्टी के कुछ राजनेताओं ने जिब्हतुन नस्रा, दाइश और अब्दुल्लाह एज़ाम ब्रिगेड जैसे आतंकवादी समूहों की हाँ में हाँ मिलाते हुए, लेबनानी सेना को गंभीर परिणाम की धमकियां दी हैं और उत्तरी क्षेत्रों में तकफ़ीरी आतंकवादियों के खिलाफ़ कार्यवाहियां तत्काल रोकने की मांग है।

लेबनानी सेना ने अपने एक बयान में स्पष्ट कर दिया कि वह उत्तरी क्षेत्रों में तकफ़ीरी आतंकवादी समूहों के अंत तक ऑपरेशन खत्म नहीं करेगी।

उधर लेबनान के प्रधानमंत्री सलाम तमाम ने त्रिपोली शहर में जारी लड़ाई के दौरान घायल होने वाले नागरिकों को तत्काल दूसरे शहरों को स्थानांतरित करने का आदेश दिया है।

सलाम तमाम ने सेना प्रमुख जनरल जॉन कहोची को आदेश दिया है कि वह त्रिपोली की लड़ाई में घायल होने वाले आम नागरिकों को स्थानांतरित करने के लिए शहर में एक कोरीडोर बनाने की कोशिश करें।

कुछ सूत्रों ने लेबनानी सेना और सशस्त्र समूहों के बीच अस्थायी युद्ध विराम के समझौते की खबर दी है लेकिन लेबनानी सेना ने उसका सख्ती के साथ इंकार किया है।

लेबनानी सेना का कहना है कि आतंकवादियों के साथ संघर्ष विराम का कोई समझौता नहीं हुआ केवल प्रभावित क्षेत्रों से नागरिकों की वापसी के अमल को आसान बनाया गया है।

त्रिपोली शहर में यह झड़पें शुक्रवार को उस समय शुरू हुईं जब खानुल अस्कर नामक क्षेत्र में सशस्त्र तत्वों ने सेना के एक दस्ते को अपने हमले का निशाना बनाया था।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :