Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 64869
Date of publication : 17/12/2014 22:5
Hit : 290

डॉक्टर ताहिरुल क़ादरी:

आतंकवादियों से बातचीत नहीं बल्कि उन्हें ख़त्म किया जाये।

पाकिस्तानी जनांदोलन के प्रमुख ने कहा कि आतंकवादियों से बातचीत नहीं बल्कि उन्हें खत्म किया जाए।



विलायत पोर्टलः पाकिस्तानी जनांदोलन के प्रमुख ने कहा कि आतंकवादियों से बातचीत नहीं बल्कि उन्हें खत्म किया जाए। रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान जनांदोलन के प्रमुख डॉक्टर ताहिरुल क़ादरी ने पेशावर घटना के हवाले से मीडिया से सीधे बातचीत करते हुए कहा कि आतंकवादियों से बातचीत नहीं बल्कि उन्हें खत्म किया जाए। उन्होंने कहा कि अगर आतंकवादियों के विरूद्ध आप्रेशन एक साल पहले शुरू हो जाता तो आज हमारे हाथों में हमारे बच्चों की लाशें न होती। आतंकवाद के मुद्दे पर सरकार और सेना के दृष्टिकोण में 180 डिग्री का अंतर है। आतंकवाद की लड़ाई लड़ना अकेले सेना का काम नहीं, पूरे राष्ट्र को आतंकवादियों के खिलाफ़ लड़ना होगा। उन्होंने कहा कि पेशावर घटना की जितनी भी निंदा की जाए कम है। राजनीतिक दल इस सोच से बाहर निकल आयें कि यह हमारी नहीं किसी और की लड़ाई है बल्कि यह हमारी लड़ाई है, राष्ट्र उसे अपनी लड़ाई मानते हुए एक हो जाए। उन्होंने कहा कि हम आतंकवाद के अभिशाप को समाप्त करने के लिए सभी के साथ बैठने को तैयार हैं, संसदीय दलों के संयुक्त अधिवेशन में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाता तो जरूर जाते क्योंकि यह देश, राष्ट्र और आने वाली पीढ़ियों की सुरक्षा का सवाल है। सरकार ने आमंत्रित इसलिए नहीं किया कि उन्हें पता है कि आतंकवाद के खिलाफ़ हमारा रुख दो+दो चार की तरह है।
उन्होंने कहा कि आतंकवाद को ख़त्म करने के लिए मैंने 600 पन्नों पर आधारित फ़त्वा दिया है। अतीत के शासक या मौजूदा शासक गंभीर होते तो इससे मदद लेते।
उल्लेखनीय है कि डॉ ताहिरुल क़ादरी ने बीमारी के बावजूद पेशावर घटना की खबर मिलते ही मीडिया से सीधे बातचीत की और घटना की निंदा की।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हिज़्बुल्लाह से हार के बाद जीत का मुंह देखने को तरस गया इस्राईल : ज़ायोनी मंत्री शौहर क्या करे कि घर जन्नत की मिसाल हो इस्राईल दहशत में, जौलान हाइट्स पर युद्ध छेड़ सकता है हिज़्बुल्लाह अय्याश सऊदी युवराज का दिमाग़ी संतुलन सही नहीं : लिंडसे ग्राहम ईरान प्रतिरोध का केंद्र और फिलिस्तीन का सच्चा समर्थक : सूर उलमा एसोसिएशन डूबते नेतन्याहू को ईरान परमाणु समझौते का सहारा ? सऊदी तानाशाह ने बोली इस्राईल की भाषा, ईरान के मिसाइल और परमाणु कार्यक्रम को रोके विश्व समुदाय सऊदी अरब पर शिकंजा कसा, जर्मनी ने 18 सऊदी लोगों पर प्रतिबंध लगाया अफ़ग़ानिस्तान के अधिकांश भाग पर तालेबान का क़ब्ज़ा, अमेरिका ने हार मानी ख़ाशुक़जी हत्याकांड के केंद्र में आया "अंधेरों का राजकुमार " आले सऊद शांति चाहते हैं तो यमन जवाबी हमले रोकने को तैयार : अल हौसी आयतुल्लाह फ़ाज़िल लंकरानी र.ह. की ज़िंदगी पर एक निगाह इदलिब, दमिश्क़ ने आतंकी संगठनों के खिलाफ सैन्य अभियान शुरू किया सऊदी अरब के साथ अपने संबंधों पर फिर विचार करे अमेरिका : बर्नी सैंडर्स आंग सान सू ची के साथ बराक ओबामा से भी छीना जाए नोबेल शांति पुरस्कार