हिंदुस्तान में सुप्रीम लीडर के प्रतिनिधि का दफ़तर
شنبه - 2019 مارس 23
हिंदुस्तान में सुप्रीम लीडर के प्रतिनिधि का दफ़तर
Languages
Delicious facebook RSS ارسال به دوستان نسخه چاپی  ذخیره خروجی XML خروجی متنی خروجی PDF
کد خبر : 77363
تاریخ انتشار : 22/6/2015 1:53
تعداد بازدید : 90

शहरों से निकलने के लिए अंसारुल्लाह की शर्त

यमन के अंसारुल्लाह आंदोलन के प्रतिनिधिमंडल ने जेनेवा में इस शर्त के साथ यमन में अपने कंट्रोल वाले शहरों से पीछे हटने की रज़ामंदी ज़ाहिर की है कि संयुक्त राष्ट्र संघ, अलक़ाएदा के सेलेंडर होने की गारन्टी दे।


विलायत पोर्टलः यमन के अंसारुल्लाह आंदोलन के प्रतिनिधिमंडल ने जेनेवा में इस शर्त के साथ यमन में अपने कंट्रोल वाले शहरों से पीछे हटने की रज़ामंदी ज़ाहिर की है कि संयुक्त राष्ट्र संघ, अलक़ाएदा के सेलेंडर होने की गारन्टी दे। इब्ब प्रेस के अनुसार, यमन की क्रान्तिकारी परिषद में अंसारुल्लाह आंदोलन के सदस्य तौफ़ीक़ अलहिमयरी ने कहा कि यह आंदोलन अदन व तइज़ सहित अपने कंट्रोल वाले दूसरे शहरों से इस शर्त पर पीछे हट जाएगा कि संयुक्त राष्ट्र संघ अलक़ाएदा के आतंकवादियों के सेलेंडर की गैरन्टी दे। उन्होंने प्रेस कान्फ़्रेंस में कहा कि अलक़ाएदा यमन में झड़पों का ख़ास हिस्सा है और हमें इस बात पर हैरत है कि जेनेवा वार्ता में उसकी तरफ़ से कोई नुमाइंदा नहीं आया। तौफ़ीक़ अलहिमयरी ने कहा कि यमन के भगोड़े पूर्व राष्ट्रपति मंसूर हादी का प्रतिनिधिमंडल, यमन में किसी भी राजनैतिक पार्टी का नुमाइंदा नहीं है। संयुक्त राष्ट्र संघ ने शुक्रवार की रात जनेवा वार्ता के बिना किसी नतीजे के ख़त्म होने का एलान किया।
................
तेहरान रेडियो