Wed - 2018 June 20
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 78710
Date of publication : 14/7/2015 13:6
Hit : 286

नेतनयाहू

बड़ी शक्तियां ईरान के सामने झुकीं-नेतनयाहू

ज़ायोनी प्रधानमंत्री ने ईरान और गुट पांच धन एक के बीच संभावित परमाणु समझौते की ज़ायोनी शासन ने आलोचना करते हुए दावा किया कि बड़े देश ईरान की शर्तों के सामने झुक गए हैं।


विलायत पोर्टलः ज़ायोनी प्रधानमंत्री ने ईरान और गुट पांच धन एक के बीच संभावित परमाणु समझौते की ज़ायोनी शासन ने आलोचना करते हुए दावा किया कि बड़े देश ईरान की शर्तों के सामने झुक गए हैं। नेतनयाहू ने ज़ायोनी मंत्रीमंडल की बैठक में कहा, “ईरान के नेता ने कहा है कि समझौता होने की स्थिति में भी अमरीका के साथ संघर्ष जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि ईरानी राष्ट्रपति रूहानी भी क़ुद्स दिवस की रैली में लोगों के साथ उपस्थित हुए जिसमें अमरीका मुर्दाबाद और इस्राईल मुर्दाबाद के नारे के साथ अमरीका तथा इस्राईल के झंडे जलाए गए। नेतनयाहू ने कहा कि इन बातों के बावजूद ईरान को विशिष्टताओं की भी पेशकश की गईं। ज़ायोनी प्रधानमंत्री ने इस बात का ज़िक्र करते हुए कि लोज़ान सहमति भी इस्राईल के लिए बुरी सहमति थी, दावा किया कि बड़ी शक्तियों का पीछे हटना और ईरान को अधिक विशिष्टताएं देना, इस देश के लिए परमाणु बम की प्राप्ति के मार्ग को समतल करेगा। ज्ञात रहे कि अमरीका, इस्राईल और उनके कुछ घटक ईरान पर परमाणु ऊर्जा से सैन्य लक्ष्यों की प्राप्ति की कोशिश का आरोप लगाते हैं और इस आधार पर इस्लामी गणतंत्र ईरान के ख़िलाफ़ ग़ैर क़ानूनी पाबंदियां लगा रखी हैं। ईरान इन आरोपों को ख़ारिज करता है और परमाणु अप्रसार संधि एनपीटी तथा आईएईए के सदस्य देश होने के नाते शांतिपूर्ण उद्देश्य के लिए परमाणु टेक्नालाँजी के अधिकार पर बल देता है। इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी आईएईए भी कभी भी ऐसे कोई दस्तावेज़ नहीं पेश कर पाया जो ईरान के शांतिपूर्ण परमाणु कार्यक्रम में किसी प्रकार के दिशाभेद का पता देता हो।
 ................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :