Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 87170
Date of publication : 12/11/2015 18:3
Hit : 346

बसरा से लाखों ज़ाएरीन, करबला की तरफ़ रवाना

इराक़ के बसरा शहर के लाखों लोग कर्बला की तरफ़ रवाना होना शुरू हो गए हैं


विलायत पोर्टलः इराक़ के बसरा शहर के लाखों लोग कर्बला की तरफ़ रवाना होना शुरू हो गए हैं। इरना की रिपोर्ट के अनुसार पैग़म्बरे इस्लाम के अहलेबैत से मुहब्बत करने वाले बसरा के लाखों लोगों के जत्थे इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के चेहलुम में हिस्सा लेने के लिए रवाना होने लगे हैं। इसी तरह ईरान के ख़ूज़िस्तान प्रांत के शलमचे नगर की सीमा से ईरानी ज़ाएरीन का पहला गुट भी इराक़ में प्रवेश कर गया है। इराक़ के वरिष्ठ धर्मगुरू आयतुल्लाह मुहम्मद सईद हकीम के प्रतिनिधि की उपस्थिति में बसरा में आयोजित एक कार्यक्रम के बाद बड़ी संख्या में लोग इमाम हुसैन के शोक का चिन्ह बन चुके हरे और लाल रंग के अलम(झंडे उठा कर) 450 किलो मीटर की पैदल यात्रा पर रवाना हो गए। इस कार्यक्रम में आयतुल्लाह हकीम के प्रतिनिधि ने कहा कि बसरे से कर्बला तक पैदल जाने वाले श्रद्धालुओं की सेवा के लिए हर मुमकिन कोशिश की जाएंगी ताकि यह कार्यक्रम सही ढंग से दुनिया के सामने पेश किया जा सके। इस बीच ईरान के ख़ूज़िस्तान प्रांत से इमाम हुसैन के श्रद्धालुओं का पहल जत्था इराक़ की सीमा में दाख़िल कर गया है। ज्ञात रहे कि हर साल एक करोड़ से अधिक लोग इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के चेहलुम के कार्यक्रम में भाग लेते हैं। इनमें अधिकांश पवित्र नगर नजफ़ से कर्बला का 80 किलो मीटर का फ़ासला पैदल तै करते हैं।
................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हश्दुश शअबी का आरोप , आईएसआईएस को इराकी बलों की गोपनीय जानकारी पहुंचाता था अमेरिका ईरान के पयाम सैटेलाइट ने इस्राईल और अमेरिका को नई चिंता में डाला सीरिया की स्थिरता और सुरक्षा, इराक की सुरक्षा का हिस्सा : बग़दाद आले सऊद की नई करतूत , सऊदी अरब में खुले नाइट कलब और कैसीनो । अमेरिका ने सीरिया से भाग कर ईरान, रूस और बश्शार असद को शक्तिशाली किया । ज़ुबान के इस्तेमाल के फ़ायदे और नुक़सान । सीरिया के विभाजन की साज़िश नाकाम, अमेरिका ने कुर्दों को दिया धोखा । सीरिया में अमेरिका का स्थान लेंगी मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात की सेना । बैतुल मुक़द्दस से उठने वाली अज़ान की आवाज़ पर लगेगी पाबंदी । दमिश्क़ की ओर पलट रहे हैं अरब देश, इस्राईल हारा हुआ जुआरी : ज़ायोनी टीवी शहीद बाक़िर अल निम्र, वह शेर मर्द जिसका नाम सुनकर आज भी लरज़ जाते हैं आले सऊद बश्शार असद की हत्या ज़ायोनी चीफ ऑफ स्टाफ की पहली प्राथमिकता ? यमन के सक़तरी द्वीप पर संयुक्त अरब अमीरात की नज़र क़तर के पूर्व नेता का सवाल, सऊदी अरब में कोई बुद्धिमान है जो सोच विचार कर सके ? अंसारुल्लाह का आरोप , यमन के लिए दूषित भोजन खरीद रहा है डब्ल्यू.एच.पी