Friday - 2018 August 17
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 88462
Date of publication : 29/11/2015 7:20
Hit : 151

यूरोपीय जवानों के नाम आयतुल्लाह ख़ामेनई के पत्र का किया जा रहा है सेंसर।

ट्विटर ने आयतुल्लाह ख़ामेनई के पत्र को ट्विट करने वालों के अकाउंट सस्पेंड कर दिये।

यूरोपीय जवानों के नाम आयतुल्लाह ख़ामेनई के पत्र के सेंसर का सिलसिला शुरू हो गया है और ट्विटर ने पत्र को ट्विट करने वालों के अकाउंट्स सस्पेंड करना शुरू कर दिये हैं।

विलायत पोर्टलः फ़ार्स न्यूज़ एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार यूरोपीय जवानों के नाम आयतुल्लाह ख़ामेनई के पत्र के सेंसर का सिलसिला शुरू हो गया है और ट्विटर ने पत्र को ट्विट करने वालों के अकाउंट्स सस्पेंड करना शुरू कर दिये हैं।

रिपोर्ट के अनुसार ट्विटर के कुछ यूज़र्स ने खबर दी है कि यूरोपीय जवानों के नाम आयतुल्लाह ख़ामेनई के पत्र को आम करने के कारण ट्विटर ने उनके अकाउंट सस्पेंड कर दिये हैं। यूज़र्स का कहना है के पत्र को ट्विट करते ही ट्विटर की ओर से संदेश आया कि ट्विट करते समय ध्यान दें कि क्या ट्विट कर रहे हैं।

हालांकि अभी तक आधिकारिक तौर पर इस बात कि पुष्टि नहीं हो सकी है लेकिन शिकायत करने वाले यूज़र्स की संख्या बहुत ज़्यादा है। कुछ लोगों का कहना है कि ईरानी जनरल क़ासिम सुलैमानी से सम्बंधित समाचार पर ट्विटर ने यह कारनामा अंजाम दिया है।

ज्ञात रहे अकाउंट को सस्पेंड करने का यह सिलसिला 2 घंटे तक जारी रहा।




आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :