Friday - 2018 August 17
Languages
Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 88996
Date of publication : 8/12/2015 8:5
Hit : 261

सऊदी उल्मा ने आले सऊद को चेताया, शेख निम्र की सज़ा ख़त्म की जाए।

सऊदी अरब के कुछ उल्मा ने सऊदी तानाशाह के नाम पत्र लिखकर बुजुर्ग और मुजाहिद धर्मगुरू आयतुल्लाह शेख बाक़िर निम्र की सजा को स्थगित किए जाने की मांग की है।



विलायत पोर्टलः आले सऊद की अदालत ने 2014 में आयतुल्लाह शेख बाक़िर निम्र को फांसी की सजा सुनाई थी। मेरातुल बहरैन की रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब के उलमा ने शेख बाक़िर निम्र की सजा को तत्काल ख़त्म किए जाने की मांग की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सऊदी अरब के कुछ उल्मा ने सऊदी तानाशाह के नाम पत्र लिखकर बुजुर्ग और मुजाहिद धर्मगुरू आयतुल्लाह शेख बाक़िर निम्र की सजा को स्थगित किए जाने की मांग की है। इन उल्मा ने उक्त पत्र में शेख बाक़िर निम्र को सुनाई गई फांसी की सजा को लागू किए जाने की बाबत चिंता व्यक्त करते हुए सऊदी सरकार को ऐसा न किए जाने के प्रति चेतावनी दी है। सऊदी अरब के कुछ शिया उलमा ने तानाशाह मलिक सलमान से मांग की है कि शेख नम्र और क़तीफ़ के शिया कैदियों की सजा ख़त्म कर दी जाए। शिया उलमा के पत्र में आया है कि इससे पिछले चार वर्षों से जारी तनाव खत्म हो सकता है। गौरतलब है सऊदी अरब के बुजुर्ग धार्मिक नेता और शिया मौलाना आयतुल्लाह शेख बाक़िर निम्र को 2012 में गिरफ्तार किया गया था और 2014 में आले सऊद की अदालत ने उन्हें फांसी की सजा सुनाई थी।


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :