Delicious facebook RSS दोस्तों को भेजें। प्रिंट सेव करें। XML TEXT PDF
Code : 98886
Date of publication : 28/4/2016 18:31
Hit : 248

इस्लामी रिवाल्यूशन का मक़सद इस्लामी तहज़ीब को व्यवहारिक बनाना है।

ईरान की इस्लामी रिवाल्यूशन के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामेनेई ने कहा है कि इस्लामी रिवाल्यूशन का उद्देश्य इस्लामी सभ्यता को व्यवहारिक बनाना है।


विलायत पोर्टलः ईरान की इस्लामी रिवाल्यूशन के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामेनेई ने कहा है कि इस्लामी रिवाल्यूशन का उद्देश्य इस्लामी सभ्यता को व्यवहारिक बनाना है। सोमवार को इस्लामी-ईरानी आदर्श केन्द्र के सर्वोच्च परिषद के सदस्यों ने सुप्रीम लीडर से मुलाक़ात की। सुप्रीम लीडर ने इस मुलाक़ात में इस्लामी रिवाल्यूशन के उद्देश्यों को पांच चरणों में विभाजित किया और इस्लामी सभ्यता को व्यवहारिक होने को रिवाल्यूशन का पांचवां व आख़िरी उद्देश्य बताया। उन्होंने कहा कि इस्लामी सभ्यता का मतलब सीमाओं का विस्तार नहीं बल्कि राष्ट्रों का इस्लाम से वैचारिक रूप से प्रभावित होना है। उन्होंने दुनियां में प्रचलित विकास के ग़लत और अनुपयोगी आधारों की तरफ़ इशारा करते हुए नये इस्लामी व ईरानी आदर्शों को पेश किए जाने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया जिनमें क्रांतिकारी कार्य हों और इसमें धार्मिक शिक्षा केन्द्रों तथा इस्लाम की मज़बूत व समृद्ध संभावाओं से फ़ायदा उठाया जाए। आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली ख़ामेनेई ने इसी तरह दुनिया में मौजूद आदर्शों के बारे में कहा कि विकास के लिए प्रचलित आदर्श, आधारों की दृष्टि से ग़लत और ग़ैर ईश्वरीय सिद्धांतों पर आधारित हैं। ईरान की इस्लामी व्यवस्था ने दुनिया में विकास का नया आदर्श पेश किया है। स्वर्गीय इमाम खुमैनी ने पूर्व सोवियत संघ के नेता मीख़ाइल गर्बाचोफ़ के नाम अपने ख़त में लिखा था कि हम आपका गम्भीर रूप से इस्लाम को समझने का आह्वान करते हैं यह इस वजह से नहीं कि इस्लाम और मुसलमान को आपकी ज़रूरत है बल्कि दुनिया व्यापी इस्लामी मूल्यों की वजह से जो समस्त राष्ट्रों को आज़ादी प्रदान कर सकता है। ईरान की इस्लामी रिवाल्यूशन को कामयाब हुए लगभग 37 साल का समय बीत जाने के बावजूद इस्लामी-ईरानी विकास मॉडल के संबंध में अभी बहुत कुछ चर्चा की ज़रूरत है और इस्लामी- ईरानी विकास आदर्श केन्द्र के गठन की एक वजह से भी यही ज़रूरी है।
.......................
तेहरान रेडियो


आपका कमेंट



मेरा कमेंट शो न किया जाये
Security Code :

नवीनतम लेख

हश्दुश शअबी का आरोप , आईएसआईएस को इराकी बलों की गोपनीय जानकारी पहुंचाता था अमेरिका ईरान के पयाम सैटेलाइट ने इस्राईल और अमेरिका को नई चिंता में डाला सीरिया की स्थिरता और सुरक्षा, इराक की सुरक्षा का हिस्सा : बग़दाद आले सऊद की नई करतूत , सऊदी अरब में खुले नाइट कलब और कैसीनो । अमेरिका ने सीरिया से भाग कर ईरान, रूस और बश्शार असद को शक्तिशाली किया । ज़ुबान के इस्तेमाल के फ़ायदे और नुक़सान । सीरिया के विभाजन की साज़िश नाकाम, अमेरिका ने कुर्दों को दिया धोखा । सीरिया में अमेरिका का स्थान लेंगी मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात की सेना । बैतुल मुक़द्दस से उठने वाली अज़ान की आवाज़ पर लगेगी पाबंदी । दमिश्क़ की ओर पलट रहे हैं अरब देश, इस्राईल हारा हुआ जुआरी : ज़ायोनी टीवी शहीद बाक़िर अल निम्र, वह शेर मर्द जिसका नाम सुनकर आज भी लरज़ जाते हैं आले सऊद बश्शार असद की हत्या ज़ायोनी चीफ ऑफ स्टाफ की पहली प्राथमिकता ? यमन के सक़तरी द्वीप पर संयुक्त अरब अमीरात की नज़र क़तर के पूर्व नेता का सवाल, सऊदी अरब में कोई बुद्धिमान है जो सोच विचार कर सके ? अंसारुल्लाह का आरोप , यमन के लिए दूषित भोजन खरीद रहा है डब्ल्यू.एच.पी